स्टार प्रचारकों के न आने से कार्यकर्ताओं की कसक रह गयी अधूरी


विधानसभा चुनाव का मामला,अभी भी हो रही चर्चाएं

सिंगरौली : विधानसभा चुनाव में भाजपा, कांग्रेस सहित अन्य दलों के लंबी, चौड़ी स्टार प्रचारकों की सूची जारी हुई थी। लेकिन भाजपा एवं आम आदमी पार्टी के अलावा अन्य दलों के स्टार प्रचारक सिंगरौली जिले में नहीं आये। जिससे कई दलों के कार्यकर्ताओं की कसक अधूरी रह गयी।गौरतलब हो कि विधानसभा चुनाव में स्टार प्रचारकों में मुख्य रूप से प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तीनों विधानसभा चितरंगी, सिंगरौली एवं देवसर क्षेत्र में सभाएं कर भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार किया था।

वहीं आम आदमी पार्टी की ओर से सिंगरौली के बैढऩ में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल एवं पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान ने आप प्रत्याशी के पक्ष में रोड शो किया था। इसके अलावा अन्य कोई स्टार प्रचारक किसी भी दल के नहीं आये। जबकि सपा मुखिया अखिलेश यादव का कार्यक्रम बैढऩ में तय था। ऐन वक्त पर निरस्त हो गया था। बसपा समेत कांग्रेस पार्टी की ओर से कोई भी स्टार प्रचारक किसी भी विधानसभा चुनाव में नहीं आये।

जिससे कार्यकर्ताओं के साथ-साथ प्रत्याशियों में भी निराशा दिखी है और माना जा रहा है कि स्टार प्रचारकों के आने से कार्यकर्ताओं में जहां जोश बढ़ता है वहीं कुछ न कुछ मतदाता भी अपना रूख बदल देते हैं। स्टार प्रचारक इस बार चुनाव प्रचार में अपनी उपस्थिति नहीं दर्ज करा पाये। जिसको लेकर कुछ दलों के प्रत्याशी भी मान रहे हैं कि स्टार प्रचारकों को आना चाहिए था इससे चुनावी माहौल गरम होता है। यदि मामूली अंतर से विधानसभा चुनाव हारे तो पूरा ठिकरा शीर्ष नेतृत्व संगठन पर फोड़ा जा सकता है।


नव भारत न्यूज

Next Post

राम जन्मभूमि आंदोलन के कारण भाजपा का गढ़ बना विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 4

Sun Nov 26 , 2023
सियासत इंदौर क्षेत्र क्रमांक 4 ऐसी सीट है जिसे कांग्रेस ने इस बार भी प्रदेश की अपनी सबसे कमजोर 10 सीटों में चिन्हित किया था। यह सीट कांग्रेस के लिए हमेशा परेशानी का कारण रही है। यहां हमेशा से गैर कांग्रेसी रुझान रहा है। कांग्रेस ने अब तक यह सीट […]