चीतों के घर कूनो नेशनल पार्क में घुसा बाघ



प्रेम मीणा
श्योपुर। कूनाे नेशनल पार्क में बाघ घुस आया है। बाघ यहां दो दिन से घूम रहा है। डीएफओ थिरुकुराल आर ने बताया कि कूनो में बाघ के पगमार्क मिले हैं। उनका कहना है कि यहां बाघों के मूवमेंट होते रहते हैं। इसका एक वीडियो भी सामने आया है। हालांकि उन्होंने वीडियो की पुष्टि नहीं की है।

कूनो नेशनल पार्क में नामीबिया और दक्षिण अफ्रीका से लाए गए चीते बड़े बाड़े में रह रहे हैं। यहां से गुजरने वाली कूनो नदी रणथंभौर नेशनल पार्क और कूनो नेशनल पार्क की सीमा बनाती है। ऐसे में रणथंभौर में रहने वाले बाघ कूनो में आ जाते हैं। चीते बड़े बाड़े में हैं, इसलिए बाघ से संघर्ष होने की आशंका नहीं है। बाघ की लोकेशन बाड़े से करीब 8 किलोमीटर दूर बताई जा रही है।

अफसर कह रहे – चीतों को बाघ से खतरा नहीं
सोशल मीडिया पर बाघ के घूमने का वीडियो वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि ये वीडियो कूनो नेशनल पार्क का ही है। वीडियो में जंगल के कच्चे रास्ते पर एक बाघ गाड़ी के आगे चलता हुआ दिख रहा है। कूनो के अधिकारियों का कहना है कि सुरक्षा से जुड़े कारणों के चलते चीतों को बड़े बाड़े में रखा गया है। ऐसे में चीतों को बाघ से कोई खतरा नहीं है।

पर्यटकों को नहीं बाड़े के पास जाने की अनुमति
पर्यटकों को चीतों के बाड़े के आसपास तक पहुंचने की भी अनुमति नहीं है। ऐसे में पर्यटक खुले जंगल में तेंदुए और दूसरे वन्यजीवों को ही देख पाते हैं। अब यहां बाघ भी देखने को मिल सकता है। हालांकि वन विभाग की टीम बाघ की तलाश कर रही है।

सच्चाई यह कि चीतों के लिए खतरे की घंटी
कूनो में बाघ की मौजूदगी चीतों के लिए खतरा है। बाघ को अपने लिए नई टेरिटरी की तलाश है। वह अपने इलाके में दूसरे जानवरों की मौजूदगी बर्दाश्त नहीं करता। ऐसे में आशंका है कि चीते को सामने देखकर वह उस पर हमला कर सकता है। दोनों की भिड़ंत हुई तो चीते की जान को खतरा हो सकता है।
एक के बाद एक समस्या
कूनो नेशनल पार्क के अधिकारी पहले से ही कई समस्याओं से परेशान हैं। यहाँ चीतों की लगातार मौत के बाद प्रोजेक्ट चीता पर सवाल खड़े हो रहे हैं। कूनो में संसाधनों की कमी को लेकर भी बहस छिड़ गई है। इसको लेकर एक महत्वपूर्ण मीटिंग नई दिल्ली में हो चुकी है। इस बीच चीतों के इलाके में बाघ की आमद से अफसरों की नींद उड़ गई है।


नव-भारत न्यूज.

Next Post

13 डिग्री पर पहुंचा न्यूनतम तापमान, शनै: शनै: बढऩे लगी ठंड

Sat Nov 25 , 2023
खरगोन। सर्द हवाओं के चलने से जिले में रात का तापमान तेजी से गिरने लगा है। नवंबर के अंतिम सप्ताह में न्यूनतम 13 डिग्री पहुंच गया है, जिससे रात में सिहरन और बढ़ गई है। जबकि दिन का तापमान 31 डिग्री होने के बाद भी सर्द हवाएं चलने से मौसम […]