एथलेटिक्स: पारुल चौधरी और एंसी सोजन की चांदी, भारत के खाते में चार पदक


हांगझाेउ (वार्ता) एशियाई खेलों में एथलेटिक्स स्पर्धा में भारत की पारुल चौधरी और एंसी सोजन की 4×400 मीटर मिश्रित रिले टीम ने सोमवार रजत पदक अपने नाम किया जबकि प्रीति लांबा ने कांस्य पदक हासिल किया।

एथलेटिक्स में भारत ने दो अक्टूबर को चार पदक जीते।

इन चार पदकों के साथ एशियाई खेल 2023 में एथलेटिक्स में भारत के कुल पदकों की संख्या 16 हो गई है, जिसमें दो स्वर्ण, आठ रजत और छह कांस्य पदक शामिल हैं।

इससे पहले विथ्या रामराज ने महिलाओं की 400 मीटर बाधा दौड़ में पीटी उषा के 39 साल पुराने राष्ट्रीय रिकॉर्ड की बराबरी की।

मौजूदा एशियन चैंपियन पारुल चौधरी ने महिलाओं की 3000 मीटर स्टीपलचेज़ में 9:27.63 के समय के साथ एशियन गेम्स में अपना पहला रजत पदक जीता।

28 वर्षीय भारतीय एथलीट के लिए 2023 सीज़न शानदार रहा है।

अगस्त में विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2023 में, उन्होंने 9:15.31 का राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया था और 11वें स्थान पर रही थीं।

मौजूदा विश्व चैंपियन बहरीन की विनफ्रेड यावी ने सोमवार को 9:18.28 के नए एशियाई खेलों के रिकॉर्ड के साथ अपना ख़िताब बरक़रार रखा।

प्रीति लांबा जुलाई में एशियाई चैंपियनशिप में 0.02 सेकेंड से कांस्य पदक जीतने से चूक गई थीं।

उन्होंने हांगझोऊ में 9:43.32 के व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ समय के साथ कांस्य पदक जीता।

महिलाओं की लंबी कूद में, एंसी सोजन ने अंतिम प्रयास में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करते हुए 6.63 मीटर के व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रयास के साथ रजत पदक जीता।

वहीं, हांगकांग चीन की नगा यान यू ने 6.50 मीटर की छलांग के साथ तीसरे स्थान पर जगह बनाई।

एंसी सोजन ने अपने अंतिम प्रयास में पूरी कोशिश की और फॉल्ट लाइन से केवल दो सेंटीमीटर दूर थी।

दो बार की U20 एशियन चैंपियन चीन की 19 वर्षीय शिकी जिओंग ने 6.73 मीटर के साथ स्वर्ण पदक जीता।

एशियाई चैंपियनशिप में रजत पदक जीतने वाली शैली सिंह सिर्फ दो सेंटीमीटर से पोडियम में जगह बनाने से से चूक गईं।
वह 6.48 मीटर की सर्वश्रेष्ठ छलांग के साथ पांचवें स्थान पर रहीं।

दिन के अन्य मुकाबले में, भारत की 4×400 मीटर मिश्रित रिले टीम में राजेश रमेश, विथ्या रामराज, मुहम्मद अजमल और सुभा वेंकटेशन ने 3:14.34 के समय के साथ राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाकर रजत पदक जीता।

पिछला रिकॉर्ड 3:14.70 का था, जो 2023 एशियाई चैंपियनशिप की स्वर्ण पदक जीत में आया था।

भारतीय चौकड़ी ने शुरू में रेस को तीसरे स्थान पर समाप्त किया था, लेकिन दूसरे स्थान पर रही श्रीलंकाई टीम को अपनी लेन इंफ्रिंजमेंट (अपनी लेन से हटने) के कारण डिस्क्वालीफाई कर दिया गया, जिसके परिणामस्वरूप टीम इंडिया का पदक अपग्रेड हो गया।

बहरीन ने 3:14.02 के साथ स्वर्ण पदक जीता, जबकि कजाकिस्तान ने 3:24.85 के साथ कांस्य पदक अपने नाम किया।

भारतीय धावक अमलान बोरगोहेन ने पुरुषों की 200 मीटर फ़ाइनल में 20.98 सेकेंड के साथ समय के साथ छठा स्थान हासिल किया।

वहीं, पवित्रा वेंगटेश ने महिलाओं के पोल वॉल्ट में 4 मीटर का मार्क पार कर छठे स्थान पर रहीं।


नव भारत न्यूज

Next Post

वार्म अप मैच में न्यूजीलैंड से हारा दक्षिण अफ्रीका

Tue Oct 3 , 2023
तिरुवनंतपुरम (वार्ता) डेवन कॉन्वे (78 रिटायर्ड हर्ट) और टाम लेथम (52) की उपयोगी पारियां दक्षिण अफ्रीका के क्विंटन डिकॉक (84 नाबाद) पर भारी पड़ीं जिसकी बदौलत न्यूजीलैंड ने वर्षा बाधित वार्म अप मुकाबला सात रन से जीत लिया। ग्रीनफ़ील्ड अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम पर न्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुये निर्धारित 50 […]