ऑस्ट्रेलिया की विश्व कप टीम में लाबुशेन को नहीं मिली जगह


मेलबर्न, (वार्ता) ऑस्ट्रेलिया ने दाएं हाथ के बल्लेबाज मार्नस लाबुशेन को भारत में होने वाले एकदिवसीय विश्व कप के लिये चयनित 18-सदस्यीय स्क्वाड में जगह नहीं दी है।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने हालांकि सोमवार को घोषित टीम में लेग-स्पिनर तनवीर संघा और हरफनमौला आरोन हार्डी को जगह दी।

संघा और हार्डी ने अभी तक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पदार्पण नहीं किया है।

लाबुशेन को टीम में जगह न मिलना आश्चर्य की बात है क्योंकि उन्होंने 2020 में पदार्पण करने के बाद से वह सिर्फ आठ एकदिवसीय मैचों में ऑस्ट्रेलियाई टीम का हिस्सा नहीं रहे हैं।

वह ऑस्ट्रेलिया के पिछले नौ वनडे मैचों में भी टीम का हिस्सा रहे थे।

एकदिवसीय विश्व कप के लिये अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के नियमों का पालन करते हुए सीए इस 18-सदस्यीय स्क्वाड को 28 सितंबर तक घटाकर 15-सदस्यीय टीम में बदल देगा।

उससे पहले यह ऑस्ट्रेलियाई टीम दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांच वनडे मैच (सात-17 सितंबर) और भारत के खिलाफ तीन वनडे (22-27 सितंबर) खेलेगी।

कप्तान पैट कमिंस विश्व कप में कंगारुओं की अगुवाई करेंगे, हालांकि दक्षिण अफ्रीका और भारत के खिलाफ उनका खेलना संशय में है।

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली गयी हालिया एशेज़ टेस्ट शृंखला के दौरान कमिंस की कलाई में फ्रैक्चर हुआ था जिसके कारण उन्हें छह हफ्ते के लिये आराम करने की सलाह दी गयी है।

मुख्य चयनकर्ता जॉर्ज बेली ने खुलासा किया कि कमिंस के ‘बायीं त्रिज्या में एक अव्यवस्थित फ्रैक्चर है जिसके लिये छह सप्ताह के रिहैब की आवश्यकता है’, लेकिन उनका मानना ​​है कि टूर्नामेंट की शुरुआत से पहले आराम करने से उन्हें फायदा होगा।

बेली ने कहा, “हम इस महत्वपूर्ण विश्व कप अभियान से पहले पैट के लिये लागू आराम की अवधि को सकारात्मक मानते हैं।
विश्व कप से पहले वह अभी भी कई मैच खेल सकते हैं जो उनकी मजबूत तैयारी के लिये पर्याप्त हैं।

विश्व कप से पहले नियोजित आठ एकदिवसीय मैचों में संघा और हार्डी को मौका मिलना तय है।

संघा इससे पहले कई टी20 दौरों पर ऑस्ट्रेलिया का हिस्सा रह चुके हैं लेकिन उन्हें अभी तक अपने देश के लिये मैदान पर उतरने का मौका नहीं मिला है।

हार्डी को ऑस्ट्रेलिया की टीम में ऑलराउंडर के स्थान के लिये मिचेल मार्श, मार्कस स्टॉइनिस और ग्लेन मैक्सवेल जैसे खिलाड़ियों के साथ मुकाबला करना होगा।

बेली का मानना ​​है कि टीम अच्छी तरह से संतुलित है और उन्हें विश्वास है कि ऑस्ट्रेलिया 1987, 1999, 2003, 2007 और 2015 में अपनी पिछली सफलताओं के बाद छठा विश्व कप खिताब जीत सकती है।

बेली ने कहा, “सीमित ओवरों के क्रिकेट में यह टीम कई वर्षों से बेहद प्रभावशाली रही है।

इस समूह में भारी मात्रा में कौशल और अनुभव है, जिसकी आपको विश्व कप में जरूरत है।

ऑस्ट्रेलिया की प्रारंभिक विश्व कप टीम : पैट कमिंस (कप्तान), शॉन एबॉट, एश्टन आगर, एलेक्स कैरी, नेथन एलिस, कैमरन ग्रीन, आरोन हार्डी, जॉश हेज़लवुड, ट्रैविस हेड, जॉश इंग्लिस, मिचेल मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, तनवीर संघा, स्टीव स्मिथ, मिचेल स्टार्क, मार्कस स्टॉइनिस, डेविड वार्नर, एडम ज़ैम्पा।


नव भारत न्यूज

Next Post

ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड क्वार्टरफाइनल में पहुंचे

Tue Aug 8 , 2023
ब्रिस्बेन, (वार्ता) इंग्लैंड ने फीफा महिला विश्व कप के सांस रोक देने वाले प्री-क्वार्टरफाइनल में सोमवार को नाइजीरिया को शूटआउट में 4-2 (फुल टाइम 0-0) में हराकर शीर्ष-आठ में प्रवेश कर लिया। सिडनी के स्टेडियम ऑस्ट्रेलिया पर खेले गये दिन के एक अन्य मुकाबले में, ऑस्ट्रेलिया ने डेनमार्क को 2-0 […]