ग्वालियर में स्थापित होगी प्रदेश की पहली हाईटेक फ्लोरीकल्चर नर्सरी और एयरोपोनिक्स लेब


भोपाल, 13 अप्रैल (वार्ता) मध्यप्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह ने कहा है कि प्रदेश की पहली हाईटेक फ्लोरीकल्चर नर्सरी और एयरोपोनिक्स लेब की स्थापना ग्वालियर में होगी। लेब का कार्य अगले माह के पहले सप्ताह में शुरू किया जायेगा।
आधिकारिक जानकारी के अनुसार किसान-कल्याण एवं कृषि विकास विभाग, राज्य कृषि विपणन बोर्ड और उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण विभाग की संयुक्त कार्य-योजना में सम्मिलित हाईटेक फ्लोरीकल्चर नर्सरी और एयरोपोनिक्स लेब की स्थापना के बारे में यहां मंत्रालय में हुई उच्च स्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया गया।
राज्य मंत्री श्री कुशवाह ने कहा कि उद्यानिकी विभाग के प्रस्ताव पर भोपाल में फ्लावर डोम निर्माण को भी जल्द ही शुरू किया जायेगा। इसके लिये कार्य-योजना तैयार की गई है। फ्लावर डोम के लिये मण्डी बोर्ड और उद्यानिकी विभाग के एमआईडीएच कार्यक्रम से 836 लाख रूपये की राशि उपलब्ध कराई जा रही है। कृषि, मण्डी बोर्ड एवं उद्यानिकी और खाद्य प्र-संस्करण विभाग के समन्वय से योजनाओं के क्रियान्वयन में तेजी लाने के लिये कहा गया। श्री कुशवाह ने चेन फेंसिंग योजना को भी जल्द शुरू करने के निर्देश दिये।
कृषि उत्पादन आयुक्त वीरा राणा ने कहा कि उद्यानिकी विभाग के अधिकारी कार्यों के प्रस्ताव वरिष्ठ कार्यालयों को भेजने के बाद समय-समय पर प्रगति की जानकारी भी प्राप्त करें। प्रस्तावित कार्यों की स्वीकृति अथवा अन्य किसी स्तर पर कठिनाई पर वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत करा कर उसे दूर करें। अपर मुख्य सचिव उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण जे.एन. कंसोटिया ने कहा कि विभागीय कार्यक्रमों को पूरी सजगता के साथ क्रियान्वित करें। उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण विभाग की एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना और राष्ट्रीय कृषि विकास योजना सहित अन्य कार्यक्रमों के क्रियान्वयन की भी समीक्षा की गई।
अपर मुख्य सचिव किसान-कल्याण एवं कृषि विकास अशोक वर्णवाल, एमडी मण्डी बोर्ड जी.व्ही. रश्मि और एमडी एमपी एग्रो संजय गुप्ता उपस्थित थे।


नव भारत न्यूज

Next Post

ईवीएम-व्हीव्हीपीएटी को सुरक्षित रखने 53 ईवीएम वेयर हाउसों का निर्माण कार्य पूरा

Thu Apr 13 , 2023
भोपाल, 13 अप्रैल (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन ने बताया कि प्रदेश में ईवीएम एवं व्हीव्हीपीएटी को सुरक्षित रखने के लिए 51 जिलों में 53 ईवीएम वेयर हाउस का निर्माण किया गया है। इनका उपयोग भी ईवीएम-व्हीव्हीपीएटी के संधारण के लिए किया जा रहा है। आधिकारिक जानकारी […]