बांधवगढ़ में बाघों के लिये तय सभी नियम दर किनार


उमरिया: देश के सभी टाइगर रिजर्व में भारत सरकार बाघों क़े जीवन व्यापन में खलल पैदा ना होने देने के लिए सुरक्षा कानून सुरक्षित करने का दावा क्यों न कर ले, यह दावा बांधवगढ़ के रिजर्व संरक्षित क्षेत्र में नजर आता नहीं दिख़ रहा है और एन टी सी ए के सभी गाइड लाइन दर किनार हो रहे हैं। कोर क्षेत्रों के तीन जोन में पर्यटक वाहन सड़क से हट कर 10 से 20 मीटर बाघ व वन्य प्राणियों के पानी पीने वाले तालाबों के पास जाते हैं और वाहनों का जमावड़ा लग जाता है और घंटो तक तालाब के पास पर्यटकों के फोटो ग्राफी के लिए टाइगर इंतजार करते हैं जिसमें टाइगर भीड़ और शोरगुल को देख कर बाघ गर्मी के मौसम में पूरी तरह से अपने मन के अनुसार पानी का उपयोग तालाब में नहीं कर पाता और तालाब से तुरंत दूसरी तरफ पलायन कर जाता है।
बाघ और वाहन की दूरी का फासला 5 मीटर
बांधवगढ़ बाघ आरक्षित कोस्ट पर्यटन क्षेत्र के अंदर कुछ ऐसे तालाब स्थित है, जहां पर्यटक वाहन उपयोगी सड़क से वाहन उतर कर अंदर तालाब के पास खड़ा हो जाता है, जहां बाघ दिखने, तालाब में पानी पीने से वहां पर बाघों और पर्यटकों के वाहनों की दूरी का फासला लगभग 10 से 20 फीट का होता है।

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के संरक्षित पर्यटन क्षेत्र के तत्वों में स्थित कुछ तालाब विवरण है कि संरक्षित क्षेत्र गेट नंबर 3 खितौली जोन के धमढमा नाला, बन तलैया, निगहा नाला, वरहा तालाब, मुडातारा, ऊपरी तालाबों के पास 5 से 10 फीट की दूरी पर महत्वपूर्ण का जामावड़ा लगता है ठीक ऊपर तालाब की तरह गेट नंबर 2 फिरधी जमहोल तालाब, ठीक इसी प्रकार से गेट नंबर 1 ताला जोन मैं गोपालपुर, दमनार, राज बहरा, में भी काफी हद तक पानी तालाब के पास में वाहन खरीद रहा है।
फुल डे वाहन से ज्यादा परेशान होते हैं टाइगर
देश के कुछ अन्य टाइगर रिजर्व में बाघों के जीवन यापन में खल होते हुए देखते हुए फुल डे फिटनेस पर प्रतिबंध लगा दिया गया है जोखिम बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में जोखिम प्रबंधन के कवर में ऐसा कोई खलल पैदा नहीं होता दिखाई दे रहा है या प्रबंधन जान रहा है बना हुआ है सदमेवगढ़ के कुछ लोगो के दावों के साथ अच्छी फोटोग्राफी का वादा किया गया करार से किए हुए फूले डे बुक व एस्ट्रा गाइड और वेटिंग में वाहन प्राप्त करने के लिए अधिकार को कहा जाता है संबंध में दी गई जानकारी के अनुसार यात्री सहभागी डे बुकिंग के साथ एक्स्ट्रा गाइड एक्स्ट्रा प्राप्त करता है तत्पश्चात संपर्क में आने वाले एक्स्ट्रा गाइड व एक्स्ट्रा वाहन के साथ ऊपर चढ़कर दर्शित तालाबों के स्थानों पर ऊपर चढ़ता है और अन्य जगहों पर फोटोग्राफी के लिए पूरे दिन ऊपर उठकर खड़ा हो जाता है और अच्छी फोटोग्राफी के साथ एक्स्ट्रा गाइड व एक्स्ट्रा ड्राइवअवलोकन के अच्छी तरह से फोटोग्राफी के लिए ऐशा काम करते हैं जो नियम के विपरीत हैं

जैसे की बाघों को शोरगुल कर लेना, मोबाइल से बाघों की आवाज निकालना, संभावना के अंदर विश्राम कर बाघों के पास वाहन को ले जाना, और शिकार पर बैठना शिकार को खा रहे बाघों के पास ले जाते हुए फोटोग्राफी, जिसका एक्सएमएल प्रबंधन को भी कैमरा ट्रैप में रिकॉर्ड और मोबाइल के माध्यम से अन्य आगंतुकों द्वारा शिकायत के माध्यम से भी प्राप्त किया जाता है, ऐसी गतिविधियों के उपयोग से संबंधित गाइड को प्राप्त किया जाता है जिससे बाघों को अपना जाता है -बसर वास साइट और पानी की जगह पर तस्वीर की वजह काफी हद तक आंकी जाती है।और शिकार पर बैठे हुए शिकार को खा रहे बाघों के पास ले स्पेक्ट्रम, जिसका वितरण प्रबंधन को भी कैमरा ट्रैप में रिकॉर्ड या मोबाइल के माध्यम से या आगंतुकों द्वारा शिकायत के माध्यम से भी प्राप्त किया जाता है ऐसी गतिविधियों का उपयोग संबंधी गाइड जारी किया जाता है बाघों को अपने पास-बेसर वास स्थल और पानी की जगह पर फोटोग्राफी के कारण काफी हद तक आंकना है।और शिकार पर बैठे हुए शिकार को खा रहे बाघों के पास ले स्पेक्ट्रम, जिसका वितरण प्रबंधन को भी कैमरा ट्रैप में रिकॉर्ड या मोबाइल के माध्यम से या आगंतुकों द्वारा शिकायत के माध्यम से भी प्राप्त किया जाता है ऐसी गतिविधियों का उपयोग संबंधी गाइड जारी किया जाता है बाघों को अपने पास-बेसर वास स्थल और पानी की जगह पर फोटोग्राफी के कारण काफी हद तक आंकना है।
क्या कहता है नियम
भारत सरकार के राज्य पत्र और एनटीसी के निर्देश के अनुसार ऐसी स्थिति में ऐसे स्थानों पर मानव हस्त दिखाई पूर्णतः वर्जित है, लेकिन पर्यटन क्षेत्र में वन्य जीवों के शिकार के स्थान पर या वास स्थल व पानी पीने वाले स्थानों के पास की दूरी कम से कम 20 मीटर की दूरी से नज़र को दिखाने का नियम टाइगरों की कुछ जीवन शैली प्रतिक्रिया पर रोक लगाता है जैसे शिकार से संबंधित, शटरिंग अवधि के दौरान, टाइगर के छोटे बच्चों की फोटोग्राफी राजपत्र के अनुसार प्रतिबंधित है, ऑर्डर के लिए बाद में भी बांधवगढ़ में बाघों की ऐसी सरकार द्वारा प्रतिबंधित प्रतिक्रिया की फोटोग्राफी बहुत जोरो पर की जा रही है जो आए दिन सोशल मीडिया पर जम कर वायरल हो रही है जिसके स्थान शिकारियों को बड़ी आसानी से प्रदान किया जा रहा है, जो किसी न किसी घटना क्रियान्वित हो सकता है,वहीं दूसरी ओर बांधवगढ़ में स्थित तालाब पर काफी दूरी पर स्थित है तो 5 से 20 फीट की भी नहीं होती है जो नियम के विरुद्ध है।
टाइगर रिजर्व में 20 मीटर पर बंद है मार्ग
भारत सरकार व एनटीसीए के दिशा निर्देश बांधवगढ़ के अनुसार टाइगर रिजर्व को छोड़कर देश के सभी टाइगर रिजर्व क्षेत्र में तालाब से 20 मीटर की दूरी पर बैरिकेड पहुंच वाहन प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है लाजमे की बात तो यह है की बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के लिए शायद कोई एकलौता कानून पारित हुआ है जो ऊपर के तालाबों पर लागू नहीं होता है, उक्त समाचार के माध्यम से जनता की अपील है, प्रबंधन प्रबंधन पर्यवेक्षण मामलों के संग्रहालय सभी टाइगर रिजर्व की तरह बांधवगढ़ में भी चेतावनी के पालन करें


नव भारत न्यूज

Next Post

कोरोना मरीज को लेने दौड़ी एम्बुलेंस, विक्टोरिया में कराया भर्ती!

Tue Apr 11 , 2023
मॉकड्रिल: कोरोना से निपटने कितने तैयार है, परखा जबलपुर: कोरोना का खतरा फिर बढ़ गया है। धीरे-धीरे कोविड संक्रमण पैर पसार रहा है जिसके लेकर जिला प्रशासन और स्वास्थ्य अमला सक्रिय हो गया है। कोरोना से निपटने तैयारियां तेज कर दी गई है। कोरोना संक्रमण की स्थिति से निपटने की […]