धर्म को जीवित रखने में संतों का बड़ा योगदानः डॉ. मिश्रा


आचार्य अनिरूद्धाचार्य की कथा में बोले प्रभारी मंत्री
इंदौर: संस्कृति एवं धर्म को जीवित रखने में संतों का बड़ा योगदान है. मां से हमें संस्कार एवं संस्कृति दोनों ही मिलती है.यह बात इंदौर जिले के प्रभारी तथा प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कही. डॉ. मिश्रा आज यहां कनकेश्वरी धाम में आयोजित भागवत आचार्य अनिरुद्धाचार्य महाराज द्वारा की जा रही कथा कार्यक्रम में संबोधित कर रहे थे. इस अवसर पर विधायक रमेश मेंदोला भी मौजूद थे. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए इंदौर जिले के प्रभारी तथा गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि माँ, महात्मा और परमात्मा का जीवन में विशेष महत्व है। माँ एवं संत से जीवन में नई संस्कृति एवं संस्कार आते हैं.

उन्होंने कहा कि लगता है कि ईश्वर सब जगह नहीं पहुंच सकते हैं, इसलिए शायद माँ को बनाया गया होगा. उन्होंने कहा कि माँ में ब्रह्मा, विष्णु और महेश का वास होता है। उन्होंने कहा कि बगैर बोले बच्चों के भाव समझने की माँ में अद्भुत शक्ति होती है। माता-पिता की सेवा ही सबसे बड़ी सेवा है। यह हमारा परम धर्म भी है. उन्होंने कहा कि संत हमेशा ही सदमार्ग दिखाते हैं। मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने व्यासपीठ का पूजन किया. उन्होंने मुख्य कथाकार संत अनिरुद्धाचार्य महाराज से आशीर्वाद भी प्राप्त किया.


नव भारत न्यूज

Next Post

सोमनाथ एक्सप्रेस में डस्टबिन के अंदर मिला नवजात शिशु का शव

Fri Apr 7 , 2023
जबलपुर: ममता एक बार फिर कलंकित हुई है। दरअसल सोमनाथ से चलकर जबलपुर पहुंची सोमनाथ एक्सप्रेस के जनरल कोच की डस्टबिन में एक नवजात शिशु का शव मिला है। जानकारी के अनुसार सोमनाथ से चलकर जबलपुर आने वाली सोमनाथ एक्सप्रेस के रैक रात को इंदौर ओवरनाइट एक्सप्रेस में लगाये जाते […]