मंदिर परिसर में अनेक लोग बावड़ी में गिरे, 10 लोगों को सुरक्षित निकाला गया


इंदौर/भोपाल, 30 मार्च (वार्ता) इंदौर में आज प्राचीन मंदिर परिसर में बनी बावड़ी (पुराना कुआ) का पुराना ढांचा गिरने के कारण अनेक लोग बावड़ी में गिर गए। दोपहर दो बजे तक दस लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया और नौ और लोगों को सुरक्षित निकाला जा रहा है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्वयं घटना पर नजर रखे हुए हैं और उन्होंने बताया कि दस लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। नौ और लोगों को सुरक्षित निकाला जा रहा है। इसके अलावा कुछ और लोगों के फसे होने की आशंका है और उन्हें भी सुरक्षित निकालने के प्रयास किए जा रहे हैं।

इस बीच आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि स्थानीय पटेल नगर स्थित बेलेश्वर महादेव मंदिर परिसर में आज रामनवमी के अवसर पर श्रद्धालुओं की काफी भीड़ जुटी थी। दोपहर मे लगभग 12 बजे परिसर स्थित पुरानी बावड़ी के ऊपर बनी छत धसक गयी। इस वजह से मंदिर परिसर में आए श्रद्धालु उसमें गिर गए। आशंका है कि बावड़ी की गहरायी 30 फीट से अधिक है। हालाकि उसमें पानी की मात्रा अपेक्षाकृत कम है। बावड़ी में सीढ़ियां और रस्सियां डालकर राहत एवं बचाव कार्य शुरू किए गए हैं। अभी तक यह भी स्पष्ट नहीं हो पाया है कि बावड़ी में कितने लोग और फसे हैं। प्रशासन की प्राथमिकता फसे हुए लोगों को सुरक्षित निकालने की है।

इंदौर संभाग आयुक्त और कलेक्टर भी दल बल के साथ मौके पर मौजूद हैं। सुरक्षित निकाले गए लोगों को अस्पताल पहुंचाया जा रहा है। उन्हें मामूली चोट पहुंची हैं।

घटना की सूचना मिलते ही मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर के वरिष्ठ अधिकारियों से फोन पर चर्चा की और राहत एवं बचाव कार्य और तेज करने के लिए कहा। मुख्यमंत्री कार्यालय इंदौर जिला प्रशासन से लगातार संपर्क में है।

श्री चौहान ने मीडिया को जारी एक संदेश में कहा कि अब तक निकाले गए सभी श्रद्धालु सुरक्षित हैं। उन्हें मामूली चोट पहुंची हैं और उन्हें प्राथमिक उपचार मौके पर ही दिया जा रहा है। एंबूलेंस आदि की व्यवस्था मौके पर की गयी है। उन्होंने ईश्वर से प्रार्थना की है कि सभी लोग सुरक्षित निकल आएं।


नव भारत न्यूज

Next Post

कोरोना संक्रमण से छह लोगों की मौत

Thu Mar 30 , 2023
नयी दिल्ली, 30 मार्च (वार्ता) देश में कोरोना के सक्रिय मामलों में व़ृद्धि जारी है और 24 घंटे में 1606 मामले बढ़े हैं जिससे इनकी संख्या 13 हजार से अधिक हो गयी है जबकि इस बीमारी से छह मरीज अपनी जान गंवा बैठे। इस बीच देश में कोरोना टीकाकरण जारी […]