जेयू की कार्यपरिषद ने 9 करोड़ घाटे का बजट पारित किया


ग्वालियर। जेयू का 9 करोड़ रुपए घाटे का बजट कार्यपरिषद की बैठक में प्रस्तुत किया गया। बजट में पोस्ट डॉक्टोरल फैलोशिप, रिसर्च स्टार्ट अप ग्रॉट, सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के तहत नए उपकरण मिलने का उल्लेख है, इससे रिसर्च कार्य को गति मिलेगी। इसके अलावा प्लेसमेंट पर भी जोर है, इससे विद्यार्थियों को फायदा होने को उम्मीद है। कुलपति प्रो. अविनाश तिवारी की अध्यक्षता में हुई बैठक में रजिस्ट्रार आरकेएस बघेल सचिव के तौर पर मौजूद रहे।
बैठक में सत्र 2023-24 का बजट पेश किया गया। यह लगभग 9 करोड़ घाटे का बजट था, जिसे सर्वसम्मति से मान्य किया गया। बजट में यूनिवर्सिटी कैंपस में जल संरक्षण, संवद्र्धन और पर्यावरण विकास के लिए 2 करोड़ का प्रावधान किया गया है। ऐसा जेयू के बजट में पहली बार किया गया। बजट में 8 करोड़ की लागत से एमबीए लेक्चर कॉम्पलेक्स के निर्माण का बजट में प्रावधान किया गया है। इसमें सभी एमबीएस कोर्स की क्लास एक ही स्थान पर आयोजित करवाई जाएंगीं। अभी विभिन्न विभागों में एमबीए कोर्स की क्लास चलती हैं। इसके अलावा पुरातत्व अध्ययनशाला के विस्तार के लिए भी 2 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। साथ ही सत्र 2022-23 के वार्षिक लेखा का भी अनुमोदन किया गया।

नव भारत न्यूज

Next Post

बोर्ड के परीक्षाओं में नकल रोकने औपचारिक बने उडऩदस्ता  62 परीक्षा केंद्रों में चल रही 10वीं एवं 12वीं की परीक्षा

Sat Mar 4 , 2023
212 परीक्षार्थियों ने छोंड दी 12वीं की परीक्षा  सीधी ।जिले में माध्यमिक शिक्षा मंडल भोपाल की हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्ड्री परीक्षा का आयोजन 62 परीक्षा केंद्रों में हो रहा है। परीक्षा केंद्रों में नकल न हो इसके लिए उडनदस्ता गठित किए गए हैं। उडऩदस्ता में अधिकारियों की ड्यूटी भी […]