चौथी तिमाही में आएगी नौकरियों की बहार

नयी दिल्ली 14 सितंबर (वार्ता) कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए लागू प्रतिबंधों में छूट दिये जाने के साथ ही उत्पाद एवं सेवाओं की मांग में तेजी की उम्मीद में देश में चालू वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में नौकरियों की बहार आ सकती है।

शोध सलाह देने वाली कंपनी मैनपावर ग्रुप की 3046 नियोक्ताओं के सर्वे के आधार पर मंगलवार को जारी राेजगार परिदृश्य रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए लागू प्रतिबंधों में छूट दिये जाने के साथ ही उत्पाद एवं सेवाओं की मांग में तेजी की उम्मीद में इनमें से कई कंपनियां हैं जो इस वर्ष के अंत से पहले अपने कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने की योजना बना रही हैं।
सेवा, विनिर्माण, वित्त, बीमा और रियल स्टेट समेत लगभग सभी क्षेत्र की कंपनियों के रोजगार परिदृश्य में सुधार के संकेत मिल रहे हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि 48 प्रतिशत बड़ी कंपनियां वित्त वर्ष 2021-22 की चौथी तिमाही में नियुक्ति करने की तैयारी में हैं।
वार्षिक आधार पर सबसे अधिक 51 प्रतिशत नियुक्ति सेवा क्षेत्र में, 43 प्रतिशत विनिर्माण क्षेत्र में तथा 41 प्रतिशत वित्त, बीमा और रियल स्टेट में होने का अनुमान है।

रिपोर्ट के मुताबिक सर्वे में शामिल कंपनियों में से 76 प्रतिशत कर्मचारियों के कौशल विकास पर निवेश करने की योजना बना रहे हैं या वह निवेश कर चुके हैं।

नव भारत न्यूज

Next Post

बच्चा गोद लेने के बाद दो साल तक देश में रहने की बाध्यता समाप्त

Tue Sep 14 , 2021
नयी दिल्ली, 14 सितंबर (वार्ता) सरकार ने प्रवासी भारतीय और भारतीय मूल के व्यक्तियों के लिए भारत में बच्चा गोद लेने के बाद दो वर्ष तक यहां रहने की बाध्यता समाप्त कर दी है। केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के सूत्रों ने मंगलवार को यहां बताया कि केंद्रीय दत्तक […]