नहर में गिरे बच्चे को बचाने कूदा युवक बहा, पानी डायवर्ट कराने स्टेट हाइवे पर 2 घंटे चला चक्काजाम

दतिया: यहाँ से करीब 6 किमी दूर रैंड़ा के पास भूटान बैराज पर नहाते वक्त 12 वर्षीय किशाेर पैर फिसलने से नहर में गिर गया। नहर में गिरे किशोर को बचाने के लिए उसके जीजा ने भी छलांग लगा दी। साले ने तो बांध के गेट पकड़कर जैसे-तैसे अपनी जान बचा ली लेकिन उसे बचाने के लिए कूदे जीजा बह गए। नहर में बहे युवक की तलाश में परिजन ने 4 घंटे तलाश की लेकिन नहर में पानी अधिक होने के कारण कुछ पता नहीं चला।इसके बाद परिजन ने सेंवढ़ा रोड पर झड़िया में चक्काजाम कर दिया। दो घंटे तक चक्काजाम लगा रहा। परिजन नहर के पानी को डायवर्ट करने की मांग कर रहे थे।

मृतक अरुण के ससुराल पक्ष ने ग्रामीणों के साथ शाम 4 बजे झड़िया पहुंचकर दतिया-सेंवढ़ा रोड पर चक्काजाम कर दिया। शाम छह बजे तक लगा रहा। परिजन की मांग थी कि मैन नहर का पानी नदी में डायवर्ट कर दिया जाए ताकि नहर में बहे अरुण का पता चल सके। जानकारी मिलने पर एसडीएम ऋषि सिंघई, एसडीओपी प्रियंका मिश्रा, तहसीलदार भूपेंद्र कुशवाहा, टीआई धवल सिंह चौहान समेत तमाम अधिकारी मौके पर पहुंचे और समझाइश के बाद जाम खुलवाया।

इसके बाद अफसर बैराज पर पहुंचे और जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री चैतन्य सिंह चौहान से बात कर मुख्य नहर का पानी भूटान नाले में छोड़ा गया। साथ ही अंगूरी बैराज से मुख्य नहर में पानी बंद कर पहूज नदी में छोड़ा गया। सुकुआं ढुकुआं बांध से अंगूरी बैराज में पानी बंद कराया। भूटान बैराज से पानी डायवर्ट होते ही परिजन के साथ पुलिस बल ने अरुण की तलाश शुरू कर दी लेकिन पता नहीं चला सका।

नव भारत न्यूज

Next Post

घर के बाहर रेत के ढेर में भारी तादाद में दबा विस्फोटक मिला, बम स्क्वॉड ने सुरक्षित ब्लास्ट किया

Thu Dec 1 , 2022
शिवपुरी: सिटी कोतवाली के पोहरी रोड सिंघनिवास गांव के समीप फ्लाईओवर ब्रिज की सर्विस लाइन के पास एक घर के बाहर रेत के ढेर में भारी तादाद में दबा विस्फोटक मिला।घर के सदस्यों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। सिटी कोतवाली पुलिस ने ग्वालियर की बम स्क्वॉड को इसकी सूचना […]