गरोठ-मल्हारगढ़ से सीएम की दूरी

रिपोर्ट हो रही तैयार, बन सकता है दौरा कार्यक्रम

मंदसौर: विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुुरु हो गई है। भाजपा ने ऐसे में जिले से उन विधानसभाओं की जानकारी मांगी है। जहां सीएम शिवराजसिंह चौहान का दौरा प्रदेश में वर्ष 2020 में हुए सत्ता परिवर्तन के बाद से अब तक नहीं हुआ है। उन विधानसभाओं में सीएम का दौरा अब प्राथमिकता के साथ होगा। इसके लिए कार्यक्रम तय होंगे। ऐसे में चार विधानसभा वाले जिले में दो विधानसभा है जहां सीएम का दौरा नहीं हुआ है तो माना जा रहा है कि यहां अब कार्यक्रम तय होंगे। भाजपा में जहां संगठनात्मक तैयारियों के साथ प्रशिक्षणों का दौर चल रहा है तो शासन स्तर से भी सीएम के दौरें की जानकारी मांगी है। इधर कांग्रेस में राहुल गांधी की भारत जोड़ों यात्रा के साथ उपयात्राएं निकाली जा रही है।
जिले की चार विधानसभा में से वर्ष 2020 में आए कोविड से पहले प्रदेश में हुए सत्ता परिवर्तन के बाद से अब तक सीएम शिवराजसिंह चौहान का दौरा नहीं हुआ। मल्हारगढ़ व गरोठ विधानसभा में सीएम नहीं पहुंचे है। वहीं मंदसौर में 8 दिसंबर को सीएम का सत्ता परिवर्तन के बाद तीसरी बार आना होगा। इसके पहले 8 मई को भी आए थे और भगवान पशुपतिनाथ की सवारी में शामिल होने आए थे तो सुवासरा विधानसभा में उपचुनाव के दौर में उनके कई दौरें हुए थे पूर्व विधायक नानालाल पाटीदार के निधन के बाद भी वहां पहुंचे थे। ऐसे में अब वित्तमंत्री जगदीश देवड़ा की विधानसभा मल्हारगढ़ व गरोठ विधायक देवीलाल धाकड़ के क्षेत्र में सीएम के आने का कार्यक्रम बनेगा। प्रशासनिक से लेकर पार्टी स्तर से भी रिपोर्ट जाने के बाद अब इन दोनों विधानसभा में सीएम का आना तय होगा। इसके लिए कार्यक्रम बनाए जाएंगे।
विकास कार्यों के प्रोजेक्ट को देखा जा रहा है
जिले में सीएम के दौरें के लिए अब प्रशासनिक स्तर पर उन प्रोजेक्ट को देखा जा रहा है जिनका लोकार्पण या मंजूरी होने पर भूूिमपूजन कराया जा सकता है। इसमें जिला मुख्यालय से लेकर जिले की सभी चारों विधानसभाओं में सरकारी भवनों से लेकर सिंचाई परियोजनाओं के अलावा खेल मैदान के साथ सडक़ो व अन्य कामों को देखा जा रहा है। जिनका लोकार्पण-भूमिपूजन सीएम से कराते हुए दौरा कराया जा सकें।
फिडबैक के आधार पर तय होंगे जिले में दौरें
पिछले दिनों भोपाल में भाजपा की बैठक चुनावी तैयारियों को लेकर हुई। कांगे्रेस जहां यात्राओंं से तैयारियों में लगी है तो वहीं भाजपा में पहले हो चुके सर्वे और उसमें मिले फिडबैक के आधार पर मुख्यमंत्री से लेकर संगठन के नेताओं के दौरें जिले की विधानसभाओं में तय होंगे। इसकी तैयारियों चल रही है। प्रशिक्षण कार्यक्रम व सम्मेलनों में संगठन के नेताओं को बुलाने की तैयारी है तो विकास कार्यों के लोकार्पण से लेकर भूमिपूजन व सरकारी कार्यक्रम में सीएम को लाने की तैयारी भाजपा के अंदरखानों में चल रही है।

आठ को मुख्यमंंत्री आएंगे मंदसौर
आगामी 8 दिसंबर को मंदसौर में होने जा रहे प्तमंदसौर गौरव दिवस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान का आगमन सुनिश्चित हो गया है। सोमवार को भोपाल मुख्यमंत्री सचिवालय से वरिष्ठ विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया को ने मुख्यमंत्री चौहान के आगमन की आधिकारिक सूचना प्राप्त हुई।विधायक सिसोदिया ने अवगत करवाया कि मुख्यमंत्री सचिवालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार मंदसोर गौरव दिवस में आतिथ्य प्रदान करने मुख्यमंत्री श्री चौहान 08 दिसंबर को दोपहर तीन बजे मंदसौर आएंगे। वे इस अवसर पर राजा यशोधर्मन की प्रतिमा का अनावरण भी करेंगे। गौरव दिवस समारोह कॉलेज ग्राउंड में आयोजित होगा। उल्लेखनीय है कि जिला प्रशासन और नगरपालिका द्वारा लगातार मंदसौर गौरव दिवस की तैयारियां की जा रही हैं। इस आयोजन को लेकर नगर में उत्साह है और आयोजन को भव्यतम एवं अविस्मरणीय बनाने के लिए लगातार विभिन्न प्रतियोगिताएं एवं कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। सम्राट यशोधर्मन की विशाल प्रतिमा का निर्माण किया जा रहा है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री चौहान द्वारा एक स्मारिका का विमोचन भी किया जाना संभावित है।

नव भारत न्यूज

Next Post

पुलिस अभिरक्षा में सुरेश रावत की हुई मौत की जांच CBI करेगी, पुलिस के तत्कालीन स्टाफ को देना होगा 20 लाख

Tue Nov 29 , 2022
ग्वालियर: आज से 3 वर्ष बेलगढ़ा थाने मेें पुलिस अभिरक्षा में हुई आरोपी सुरेश रावत की मौत के मामले में हाईकोर्ट ग्वालियर ने सीबीआई जांच के आदेश और 20 लाख रूपये का जुर्माना लगाया है। यह मामला 2019 का बताया जा रहा है। इस मामले न्यायाधीश जीएसअहलूवालिया ने विवेचक पर […]