शुरू में 3 लाख 60 हजार की रिपोर्ट लिखवाई,बहू के कीमत बताने पर जब्ती 30 लाख पहुंच गई

चोर ने उगली तीस लाख के हीरे,प्लेटिनम और सोने की ज्वेलरी

खंडवा: आनंदनगर में बड़े ठेकेदार के घर हुई सेंधमारी का रिपोर्ट लिखाने के 24 घंटे में खुलासा हो गया। ठेकेदार के ड्रायवर ने ही नाबालिग के साथ मिलकर तीस लाख से ज्यादा के गहने उड़ा दिए। घर के लोग जयपुर शादी में गए थे। मामले में पेंच वहां फंस रहा है जब शुरूआत में 3 लाख 60 हजार रुपए की चोरी बताई गई। माल जब्त हुआ 30 लाख रुपए से ज्यादा का। इसमें डायमंड की महंगी ज्वेलरी के अलावा प्लेटिनम, सोने-चांदी के आभूषण थे।

अदालत से माल वापस कैसे मिलेगा? इस संबंध में पुलिस ने बताया कि ठेकेदार की बहू बाद में आई। उसने बताया कि ज्वेलरी महंगी व ज्यादा थी। उसे दहेज में मिली थी। पुलिस ने चोरी और बरामदगी में बहू के बताने के बाद सुधार कर लिया था। फरियादी ने बताया कि रिपोर्ट लिखाने के कुछ समय बाद ही पत्नी के आने पर इसमें सुधार कर दिया था।
ठेकेदार भी सकते में
ठेकेदार को पुलिस, अदालत और आयकर वालों को भी जवाब देना पड़ सकता है। चोरी के बाद पुलिस इतनी अधिक सक्रिय हो गई थी, कि कुछ ही देर में नौकरों को पकड़ लिया। पूछताछ में माल जब्त हुआ तो सबकी आँखें फटी रह गईं। शहर में चर्चा है कि माल जब्ती से घटना और नया रूप लेती जा रही है।
आरोपी ने बैंक में जमा कर दिए थे रुपए
चोरी का पता घरवालों को हुआ तब तक आरोपी ने 2 हजार रुपए में बैंक खाता खोलकर 50 हजार रुपए जमा भी कर दिए। यह तारीफ के काबिल है कि पुलिस ने तुरंत तत्परता दिखाकर ड्रायवर समेत माल भी जब्त कर लिया। फरियादी निकुंज बंसल पिता राजेन्द्र बंसल निवासी विद्यानगर, आनंद नगर खण्डवा ने मामला दर्ज कराया है। निकुंज ने पुलिस को बताया कि 21 नवंबर को परिवार सहित जयपुर शादी में गए थे। 27 को घर आए तो ड्रेसिंग की आलमारी में रखे नगद व जेवर गायब थे।
हीरे व सोने के थे जेवर
आरोपी राजकुमार उर्फ विक्की से सोने, चाँदी, हीरे के जेवर कीमती 30 लाख रूपये के जप्त किए। उसने 23 नवंबर को 2 हजार रूपए से पंजाब नेशनल बैंक शाखा टाउनहाल खंडवा में खाता खुलवाकर 50 हजार रूपए जमा करा दिए। पत्नी जान्हवी के 59 हजार रूपए नगद व आलमारी में रखे जेवर जिसमें एक सोने का सिक्का, डायमंड का कंगन, सोने की चूडी 04, डायमंड कंगन 01, मोती का सेट 01, रोज गोल्ड पालिस का सेट, सोने का सेट 01, डायमंड ब्रेसलेट 01, चोकर सेट 01, सोने का का गले का सेंट 01, सोने के हाथ फूल 02 नग, सोने की गले की चेन 03 नग, सोने के लाकेट 02 सूरज एवं गणेश जी ब्रांड, सोने की अंगूठी 04 नग, डायमंड के कान के रिंग 02 नग, 02 सोने की ब्रेसलेट, चाँदी की चैन 01. चाँदी का टीका व नथ गायब मिले थे।
ऐसे पकड़ाए ड्रायवर व नाबालिक
मौके पर डॉग स्क्वाड फिंगर प्रिंट टीम पहुंची। नौकरों व ड्रायवर को पकड़ा। बातचीत में ड्रायवर को निगाहों व जवाबों से पुलिस पकड़ लाई। राजकुमार उर्फ विक्की पिता हौसीलाल राठौर उम्र 25 साल निवासी टाकली मोरी टूट गया। उसने माल भी जब्त करा दिया। अपने नाबालिग साथी का नाम भी बताया।

नव भारत न्यूज

Next Post

विदिशा जिले के पत्रकार राजेश शर्मा, सुनील शर्मा और नरेंद्र दीक्षित का सड़क हादसे में निधन

Tue Nov 29 , 2022
विदिशा/रायसेन, 29 नवंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के विदिशा जिले के तीन पत्रकारों का पड़ोसी रायसेन जिले के सलामतपुर थाना क्षेत्र में एक सड़क हादसे में निधन हो गया। पुलिस सूत्रों के अनुसार विदिशा निवासी पत्रकार राजेश शर्मा, सुनील शर्मा और नरेंद्र दीक्षित एक दुपहिया वाहन से देर रात आसपास के किसी […]