बेरोजगारी, डर और आपस में लड़ाने के खिलाफ है यह यात्राः राहुल गांधी

भारत जोड़ो यात्रा का मध्यप्रदेश में प्रवेश, जोरदार स्वागत
बुरहानपुर: कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नेतृत्व वाली भारत जोड़ो यात्रा (बीजेवाई) महाराष्ट्र चरण का समापन करने के बाद बुधवार को मध्य प्रदेश में प्रवेश कर गई. महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने सुबह करीब साढ़े पांच बजे बुरहानपुर जिले से मध्य प्रदेश कांग्रेस प्रमुख कमलनाथ को यात्रा ध्वज सौंपा, जिसके बाद करीब साढ़े छह बजे पदयात्रा शुरू हुई.महाराष्ट्र के जलगांव जामोद के रास्ते बुधवार सुबह 6 बजे राहुल गांधी का काफिला रवाना हुआ जो सुबह 7 बजे बुरहानपुर के बोदरली गांव पहुंचा. यहां पर राहुल गांधी का जोरदार स्वागत किया गया. बंजारा लोक नृत्य कलाकार रीना पवार द्वारा स्वागत में लोक नृत्य की प्रस्तुति दी. यात्रा शुरू करने के पहले राहुल गांधी ने यात्रा में शामिल हुए कांग्रेस पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को संबोधित कर यात्रा शुरू की.

राहुल गांधी की यात्रा में पूर्व सीएम कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और राजस्थान के कांग्रेस नेता सचिन पायलट समेत कांग्रेस के कई नेता और कार्यकर्ता शामिल हुए. भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा भारत जोड़ो यात्रा का काम है, जो भाई को भाई से लड़ाया जा रहा है, डर फैलाया जा रहा है, उसके खिलाफ खड़ा होना. बेरोजगारी के खिलाफ यह यात्रा चल रही है. एक महिला से पूछते हुए कहा कि यूपीए के समय गैस सिलेंडर का दाम क्या होता था. चार अंगुलिया दिखाते हुए उन्होंने बताया कि चार सौ रुपए. लेकिन, आज दो हाथों से भी नहीं बता पाएंगे. आज 11 सौ रुपए का हो गया है. 400 से 1100 रुपए के बीच का अंतर आपके जेब से ही तो जा रहा है. यह फर्क का कारण क्या है. फिर यूपीए के समय पेट्रोल का दाम 60 रुपए, बीजेपी के समय 107 रुपए. यह जो फर्क है, यह सवाल बीजेपी के लोगों से पूछो, यह किसकी जेब में जा रहा है. यह सब जानने लगे हैं कि यह पैसा कहा जा रहा है किसकी जेब में जा रहा है और किस काम के लिए जा रहा है. बीएचईएल को बेचने की तैयारी, पब्लिक सेक्टर का रास्ता बंद कर दिया.
युवाओं ने पूछा सेना का रास्ता क्यों छीना
भारत जोड़ो यात्रा के दौरान बुधवार शाम को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने तिरंगा दिखाते हुए कहा कि मैं आपसे पूछता हूं कि इसकी रक्षा कौन करता है। इसकी रक्षा सेना, एयरफोर्स और नेवी करती है. इन सडक¸ों पर हजारों युवाओं ने मुझसे कहा है कि हमने इस झंडे की रक्षा करने के लिए ट्रेनिंग की है. सुबह चार-चार बजे उठते हैं, दौड़ते हैं. पहले जो इसकी रक्षा करता था सेना उसको जिंदगीभर की नौकरी देती थी, रक्षा करती थी। यह रिश्ता था. लेकिन इस रिश्ते को नरेंद्र मोदीजी ने तोड़ दिया है. मोदीजी कहते हैं कि जो भी युवा इस झंडे की रक्षा करना चाहते हैं, उसे हम 6 माह की ट्रेनिंग देंगे और चार साल बाद लात मारकर भगा देंगे. उसे जिंदगीभर के लिए बेरोजगार कर देंगे. यह नया रिश्ता है. यह मैं नहीं कह रहा हूं. कन्याकुमारी से मध्यप्रदेश तक हजारों युवाओं ने मुझे यह बात बोली है कि हम सेना के लिए हम अपनी जान देने के लिए तैयार थे, हमसे यह रास्ता क्यों छीना गया है.

प्रियंका गांधी का एयरपोर्ट पर स्वागत
प्रियंका गांधी के इंदौर पहुंचने पर एयरपोर्ट पर स्वागत किया गया. बाला बच्चन ने कमलनाथ की तरफ से स्वागत किया. कमलनाथ इस वक्त राहुल गांधी के साथ हैं. इसलिए उन्होंने अपने खास बाला बच्चन को इँदौर रिसीव करने के लिए भेजा था. इस दौरान सत्यनारायण पटेल सहित अन्य नेताओं ने भी स्वागत किया.

नेताओं के कैडर बांटे
राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा गुरूवार को सुबह गुप्तेश्वर महादेव रूस्तमपुर आ जाएगी. नेता सुबह 4 बजे से ही पोजीशन जमाने लगेंगे. राहुल की झलक पाने व फोटो के लिए प्रयास करेंगे. विधायकों को नीले पट्टे वाले कार्ड दिए गए हैं. पूर्व केंद्रीय नेताओं के बारे में एसपीजी को बताया जाता है कि ये फलां नेता हैं. यात्रा में तीन घेरे के अंदर राहुल गांधी रहते हैं. कुछ स्पेशल नेताओं को राहुल के साथ हमकदम होने का मौका दिया जाता है. कुछ दूरी के बाद इन्हें हटा दिया जाता है। केवल कमलनाथ, दिग्विजयसिंह, अरूण यादव व बाला बच्चन जैसे नेता मर्जी के मुताबिक आ- जा सकते हैं.

आज क्या होगा?
राहुल गांधी सुबह 6 बजे गुप्तेश्वर भोले मंदिर रूस्तमपुर में दर्शन कर आगे बढ़ेंगे. दस किलोमीटर चलने के बाद टी ब्रेक होगा. इसमें उन्हें दूध या काफी दी जाएगी. इसके बाद फिर पैदल चल निकलेंगे. सुबह लगभग 12 बजे डुल्हार फाटा से पंधाना फिर बड़दा गांव जननायक टंट्या मामा स्मारक तक कार से जाएंगे. इस गांव मे जाने का रास्ता संकरा है. इसलिए वन वे कर इन्हें निकाला जाएगा. देशगांव के पास रात्री विश्राम होगा.

नव भारत न्यूज

Next Post

जिले की खाद्यान्न व्यवस्था लडख़ड़ाई,उपभोक्ता परेशान

Thu Nov 24 , 2022
कई सरकारी उचित मूल्य दुकानों में नवम्बर महीने का नहीं वितरित हुआ खाद्यान्न,सेल्समैन हितग्राहियों को कर रहे गुमराह,खाद्य अमला अपनी जबावदेही से झाड़ा पल्ला सिंगरौली :जिले की खाद्यान्न वितरण व्यवस्था लडख़ड़ा गयी है। खाद्य अमले की लापरवाही एवं सेल्समैनों से सांठ-गांठ के चलते कई दुकानों में नवम्बर महीने का राशन […]