सीओएएस की नियुक्ति के बाद चुनाव नहीं होने पर पीटीआई अपनी रणनीति का खुलासा करेगी: फवाद

इस्लामाबाद, 23 नवंबर (वार्ता) पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) ने कहा कि अगर नए सेना प्रमुख (सीओएएस) की नियुक्ति के बाद देश में चुनाव नहीं होते हैं तो पार्टी अपनी रणनीति का खुलासा करेगी। पीटीआई नेता फवाद चौधरी ने एक निजी समाचार चैनल से बातचीत करते हुए यह जानकारी दी।
पीटीआई के पूर्व मंत्री ने कहा कि उनकी पार्टी ने मध्यावधि चुनाव के लिए सरकार से बातचीत की थी, लेकिन मौजूदा सरकार अपनी हार के डर से चुनाव की घोषणा करने से डर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार को चुनाव के तारीख की घोषणा करनी चाहिए जिससे हम बाकी संरचनाओं को ठीक कर सकें। उन्होंने कहा कि देश के मौजूदा आर्थिक संकट से निपटने का एक मात्र तरीका नया चुनाव ही है।
इससे पहले लाहौर में पत्रकारों से बात करते हुए श्री फवाद ने कहा कि पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) सुप्रीमो नवाज शरीफ और पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के बीच देश में मार्शल लॉ लगाने पर सहमती बन चुकी है और देश में मार्शल लॉ लगाने में अगर कोई बाधा है तो वह पीटीआई है और हम देश में मार्शल लॉ नहीं लगने देंगे।
पीटीआई नेता ने कहा कि हम बड़ी रैली निकालने की तैयारियां कर रहे हैं और शुक्रवार की रात रावलपिंडी में 35 से 40 हजार लोग पहुंचेंगे। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान रावलपिंडी में भविष्य की योजनाओं का खुलासा करेंगे।
श्री फवाद ने सेना प्रमुख की नियुक्ति पर सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि रक्षा मंत्री और गृह मंत्री इस पर अलग-अलग बयान दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि “हमारा कोई पसंदीदा उम्मीदवार नहीं है और हम चाहते हैं कि इस मुद्दे को बिना किसी विवाद के हल किया जाए, लेकिन सरकार ने चोरों से बातचीत करके इस महत्वपूर्ण नियुक्ति को विवादास्पद मुद्दे में तब्दील कर दिया है।”

नव भारत न्यूज

Next Post

सीनेटरों ने बाइडेन से यूक्रेन को विध्वंसक ड्रोन देने के लिए पुनर्विचार करने का आग्रह किया

Wed Nov 23 , 2022
वाशिंगटन, 23 नवंबर (वार्ता) अमेरिका के 16 सीनेटरों के द्विदलीय समूह ने अमेरीकी राष्ट्रपति जो बाइडेन प्रशासन से रूस से लड़ाई करने के लिए विध्वंसक ग्रे ईगल ड्रोन यूक्रेन को देने के अनुरोध पर पुनर्विचार करने का आग्रह किया है। इससे पहले बाइडेन प्रशासन यूक्रेन को ग्रे ईगल ड्रोन देने […]