5 लाख की रिश्वत लेते आयकर अधिकारी को सीबीआई ने पकड़ा

मंदसौर: मंगलवार को मंदसौर में सीबीआई की भोपाल टीम ने छापामार कार्रवाई कर मंदसौर के आयकर अधिकारी को पांच लाख रूपऐ की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया। यह मामला मुंबई की बिजली के बटन बनाने वाली कंपनी से जुडा हुआ है, कंपनी को टैक्स में रियायत दिलाने के नाम पर आयकर अधिकारी आर.जे. प्रजापति ने रिश्वत मांगी थी इसकी शिकायत कंपनी के मालिक ने सीबीआई से की जिसके बाद रणनीति बनाकर भोपाल टीम ने पूरी कार्रवाहीं को अंजाम दिया।सीबीआई भोपाल एडिशनल एसपी अतुल हजेला ने बताया कि महाराष्ट्र में बिजली के बटन बनाने वाली फर्म द्वारा शिकायत की गई थी की उसकी फर्म में बिजली के बटन बनाए जाते है । जिसका आयकर भी मंदसौर आयकर कार्यालय में निर्धारण किया जाता है।

फरियादी ने आरोप लगाते हुए सीबीआई भोपाल में शिकायत दर्ज की थी की मंदसौर जिला आयकर अधिकारी ने 10 लाख की रिश्वत की मांग की है। सीबीआई द्वारा की गई जांच मे शिकायत सही पाए जाने पर टीम ने ट्रैप प्लान किया और मंगलवार की शाम को सीबीआई कार्यालय भोपाल से आई आठ लोगों की टीम ने मंदसौर जिले के आयकर अधिकारी आर जी प्रजापति (आईटीओ) को पांच लाख की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। टीम ने मौके से पांच लाख की राशि भी बरामद की। गिरफ्तार आरोपी को कल इंदौर में सीबीआई मामलों के विशेष न्यायाधीश के समक्ष पेश किया जाएगा।उधर मीडिया ने जब आयकर अधिकारी आरजे प्रजापति से चर्चा करना चाही तो उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि मुझे फंसाया जा रहा है।सीबीआई अब इस पूरे मामले की जांच में जुट गई है।

नव भारत न्यूज

Next Post

अपने वास्तविक लक्ष्य से भटक रहा जन अभियान परिषद, वास्तविकता से परे हैं आंकड़े

Wed Nov 23 , 2022
पन्ना :जन अभियान परिषद अपने लोकव्यापी स्वरूप को भूल कर दडबेनुमा दफ्तर में सिमट कर रह गई है। शासन ने इसका गठन इस उद्देश्य से किया था कि शासन की योजनाएं जन जन तक पहुंचाई जाएंगी और अधिकतम लोगों को जोडकर उनका जीवन स्तर सुधारा जाएगा। सामाजिक कुरीतियों के खिलाफ […]