75 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को आईटीआर से राहत…

75 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को आईटीआर से राहत…

भोपाल-भारत सरकार ने 75 साल से ज्यादा के लोगों को इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के झंझट से छुटकारा दे दिया है। वित्त वर्ष 2021-22 के बजट में पेंशन इनकम और उसी बैंक में एफडी पर ब्याज पाने वाले 75 साल और अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिकों को टैक्स रिटर्न दाखिल करने से छूट का प्रावधान पेश किया गया था। अब यह प्रावधान लागू होने के बाद 75 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्गों को ITR फाइल करने की जरूरत नहीं है। इसकी बजाय उन्हें डिक्लेरेशन फॉर्म बैंक में जमा करना होगा। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने यह फॉर्म नोटिफाइड कर दिया है।

अब 75 साल और उससे ज्यादा उम्र के वरिष्ठ नागरिकों को वित्त वर्ष 2021-22 के लिए इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने की बजाय यह डिक्लेरेशन फॉर्म बैंकों में जमा कराना होगा।

क्या है नया नियम

नए नियम के तहत सीबीडीटी ने 75 साल से ज्यादा उम्र के वरिष्ठ नागरिकों के लिए नियमों और घोषणा का फॉर्म अधिसूचित कर दिया है। अब वरिष्ठ नागरिक यह फॉर्म बैंक में जमा कराएंगे, जिसके बाद बैंक पेंशन और ब्याज आय पर टैक्स काटकर उसे सरकार के पास जमा कराएंगे। इन बुजुर्गों को इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने की छूट उन्हीं मामलों में मिलेगी जिनमें ब्याज की आय उसी बैंक से प्राप्त होगी जहां पेंशन जमा होती है।

आयकर विभाग ने जारी किया करीब 24 लाख करदाताओं को 67,400 करोड़ का रिफंड
आयकर विभाग ने जारी किया करीब 24 लाख करदाताओं

नव भारत न्यूज

Next Post

मध्यप्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर की आंशका

Thu Sep 9 , 2021
भोपाल। महाराष्ट्र में कोरोना की तीसरी लहर के अलर्ट के बाद मध्यप्रदेश में भी कोरोना की तीसरी लहर की आंशका बढ़ गई है। बीते दो सप्ताह से लगातार कोरोना के एक्टिव केस बढ़ने के बाद अब सरकार की चिंता भी बढ़ने लगी है। जबलपुर, इंदौर और भोपाल में लगातार कोरोना […]