लाइसेंसी पिस्टल से बिल्डर ने खुद को मारी गोली

जबलपुर: सिविल लाईन स्थित डिलाइट टॉकिज के पास रहने वाले एक बिल्डर ने शनिवार सुबह लाइसेंसी पिस्टल से खुद को गोली मार ली। परिजन आनन-फानन में उसे उपचार के लिए अस्पताल लेकर पहुंचे जहां उसकी हालत नाजुक बताई जा रही हैं। उसने यह आत्मघाती कदम किन परिस्थितियों में उठाया यह फिलहाल स्पष्ट नहीं हो पाया हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस छानबीन में जुट गई हैं।पुलिस के मुताबिक डिलाइट टॉकिज के पास रहने वाले राजू वर्मा बिल्डर है। रोजाना की तरह शनिवार सुबह सोकर उठे।

पत्नी झूमा दूसरे कमरे में थी। इस दौरान न जाने क्या हुआ कि सुबह लगभग साढ़े आठ बजे वर्मा ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल निकाली और उसे गर्दन पर रखा और फायर कर दिया। गोली की आवाज सुनते ही पत्नी झूमा और बेटी कृतिका दहशत में आ गए। वे अंदर पहुंचे, तो देखा कि राजू के गले से खून की धार बह रही थी। पास ही उनकी लाइसेंसी पिस्टल पड़ी थी। तत्काल परिचितों को इसकी जानकारी दी और उन्हें निजी अस्पताल ले जाया गया। जहां हालत नाजुक होने पर वर्मा को मेडिकल रेफर कर दिया गया।

लीवर की बीमार से जूझ रहे, तीन दिन पूर्व मुंबई से लौटेपुलिस सूत्रों के मुताबिक राजू वर्मा वर्षों से लीवर की बीमार से जूझ रहे हैं। उनका ऑपरेशन भी हो चुका है काफी समय बीत जाने के बाद भी तकलीफ से आराम नहीं मिल रहा था जिसे चलते वे डिप्रेशन में आ गए थे। इलाज के सिलसिले में कुछ दिनों पूर्व वे मुंबई गए थे। गुरुवार को ही वे मुंबई से लौटे हैं। उन्होंने यह कदम क्यों उठाया, पुलिस इसकी जांच कर रही है।
इनका कहना हैं
बिल्डर राजू वर्मा ने खुद की लाइसेन्सी पिस्टल से गोली मारी है। हालत नाजुक है। उन्होंने यह कदम क्यों उठाया, इसकी जांच की जा रही है।
रमेश कौरव, सिविल लाईन थाना प्रभारी

नव भारत न्यूज

Next Post

वृद्धजनों के अनुभवों से लें सीख : वन मंत्री डाँ. शाह

Sun Oct 2 , 2022
भोपाल –वन मंत्री डॉ. कुंवर विजय शाह ने कहा है कि वृद्धजन समाज के मार्गदर्शक है, इनके अनुभवों से सीख लेकर प्रत्येक क्षेत्र में कामयाबी मिल सकेगी। वन मंत्री अनूपपुर में अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस पर 36 वृद्धजन को सहायक उपकरण प्रदान कर सम्मानित कर रहे थे। वन मंत्री डॉ. शाह […]