आठ मौतों का कसूरवार डॉ. संजय गया जेल

अग्निकांड के बाद भोपाल-सतना में काटी थी फरारी

जबलपुर: न्यू लाईफ मल्टी स्पेशलिटी में 1 अगस्त को हुए अग्निकांड के बाद 10 हजार रूपए का ईनामी आरोपी डॉ. संजय पटैल 39 वर्ष निवासी कृष्णा कालोनी घमापुर शहर छोडक़र भाग गया था। उसने भोपाल और सतना में फरारी काटी। सतना के बाद फिर भोपाल पहुंंचा इसके बाद जब वह जबलपुर आया तो पुलिस ने उसे धरदबोचा था। पूछताछ में उसने पुलिस को बताया है कि घटना के बाद से उसका प्रकरण मेेंं फरार चल रहे डायरेक्टर निशिंत गुप्ता और डॉ. सुरेश पटैल से कोई संपर्क नहीं हुआ है। आठ मौतों के कसूरवार डॉ. संजय पटैल को पुलिस ने बुधवार को कोर्ट में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया हैं।
डॉ. संतोष के संपर्क में था संजय
विदित हो कि फरार 10 हजार रूपये के ईनामी डॉ. संजय पटेल को मंगलवार को पुलिस ने उस समय गिरफ्तार कर लिया था जब वह भोपाल की फ्लाईट से शाम को जबलपुर पहुंचा था। बीएचएमएस डॉ. संजय पटेल न्यू लाईफ हॉस्पिटल में 25 प्रतिशत का पार्टनर था। पूछताछ में उसने पुलिस को बताया है कि डॉ. संतोष सोनी 36 वर्ष निवासी महाराजपुर अधारताल की गिरफ्तारी के पूर्व वह संतोष के संपर्क में था। फरार निशिंत गुप्ता एवं डॉ. सुरेश पटेल से उसका कोई संपर्क नहीं हो पाया।
डायरेक्टर निशिंत-सुरेश अब भी फरार
अग्निकांड प्रकरण में डायरेक्टर निशिंत समेत डॉ. सुरेश अब भी फरार चल रहे हैं जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। प्रकरण में मौत के अस्पताल का सहायक मैनेजर राम सोनी पिता महेन्द्र सोनी 29 वर्ष निवासी रामवार्ड पनागर, डॉ. संतोष सोनी 36 वर्ष निवासी महाराजपुर अधारताल एवं सीनियर मैनेजर विपिन पाण्डेय पिता सुशील कुमार पाण्डेय 36 वर्ष निवासी त्रिमूर्ति नगर 90 क्वाटर अनमोल नगर चौराहा गुप्ता चक्की के सामने थाना गोहलपुर को पूर्व में गिरफ्तार गिए जा चुके है।

नव भारत न्यूज

Next Post

जोरदार बारिश से पानी-पानी शहर, नदी-नाले उफान पर

Thu Aug 11 , 2022
12 घंटे में हुई चार इंच बारिश, पश्चिमी क्षेत्र में बाढ़ जैसे हालात इंदौर: मंगलवार शाम से शुरू हुई बारिश का दौर बुधवार को भी जारी रहा. रूक-रूककर रात तक बारिश जारी रही. मंगलवार रात 8 बजे से बुधवार शाम 5.30 बजे तक 5 इंच बारिश हो गई. इसमें चार […]