कायाकल्प अभियान के तहत पीपीडी मोड पर विकास करेगी

वर्चुअल के माध्यम से मुख्यमंत्री ने संपूर्ण कायाकल्प अभियान का किया शुभारंभ

सिंगरौली : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में मिंटोहाल में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में सम्पूर्ण कायाकल्प अभियान का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने सिंगल क्लिक के माध्यम से अस्पतालों को विभिन्न कार्यों के लिए 66 करोड़ रुपए की राशि प्रदान की। समारोह में मुख्यमंत्री ने श्रेष्ठ कार्य करने वाली चिकित्सा संस्थाओं को पुरस्कृत किया। समारोह में में जिले की सीएचसी चितरंगी, खुटार, देवसर को सम्मानित किया गया।समारोह में मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्कृष्ट कार्य करने वाले सभी डॉक्टरों तथा अन्य चिकित्सा कर्मियों को मैं बहुत-बहुत बधाई देता हूँ। पीडि़तों का उपचार करना मानवता की सबसे बड़ी सेवा है।

यह सबसे बड़ा पुण्य का कार्य है। कोरोना संकट काल में रोगियों के उपचार तथा कोरोना टीकाकरण में सरकारी अस्पतालों ने शानदार कार्य किया है। कोरोना संकट के समय मरीज निजी अस्पताल को छोड़कर सरकारी अस्पतालों में भर्ती हो रहे थे। पिछले तीन वर्षों में कायाकल्प अभियान के तहत सरकारी अस्पताल की व्यवस्थाओं, उपकरणों तथा चिकित्सा सुविधा में अभूतपूर्व सुधार हुआ है। सरकार जिला अस्पताल से लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों का कायाकल्प अभियान के तहत पीपीपी मोड पर विकास करेगी। इसके लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि अस्पतालों के विकास तथा सुधार के लिए 146 करोड़ 39 लाख रुपए के कार्य मंजूर किए गए हैं। इन्हें तीन महीने में पूरा कराएं। अब जिला अस्पतालों में 530 तरह तथा सामुदायिक केन्द्रों में 448 तरह की दवाएं नि:शुल्क उपलब्ध होंगी।

अस्पतालों में आवश्यक उपकरणों की खरीद के लिए भी 120 करोड़ रुपए की राशि मंजूर की गई है। साथ ही 20 हजार नए पलंग एवं एक लाख 21 हजार चादरें खरीदी जा रही हैं। स्वास्थ्य सेवाओं के बजट में 29 प्रतिशत की वृद्धि की गई है। स्वास्थ्य सेवाओं के विकास के लिए किसी तरह की धन की कमी आड़े नहीं आएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के कई भागों में कोरोना संक्रमण फैल रहा है। आजादी के अमृत महोत्सव में 30 सितम्बर तक प्रदेश में कोरोना वैक्सीन की प्रिकॉशन डोज नि:शुल्क लगाई जा रही है। सभी पात्र व्यक्ति प्रिकॉशन डोज अवश्य लगवाएं। उक्त कार्यक्रम में विधायक सिंगरौली रामलल्लू बैस, कलेक्टर राजीव रंजन मीना, ननि आयुक्त आरपी सिंह, सीएमएचओ डॉ.एनके जैन, सिविल सर्जन डॉ. ओपी झा, डॉ.संतोष, डॉ.उमेश सिंह, डॉ.गंगा वैश्य, डॉ.पंकज सिंह, डीपीएम सुधांशु चतुर्वेदी, एसी ट्रायबल संजय खेड़कर सहित डॉक्टर गण आम जन तथा अन्य अधिकारी शामिल हुए।

कार्यक्रम में झपकी लेने लगे आयुक्त एवं एसी ट्रायबल
जिला चिकित्सालय सह ट्रामा सेंटर के परिसर में कायाकल्प अभियान का कार्यक्रम रखा गया था। जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भोपाल में कार्यक्रम का शुभारंभ कर रहे थे। जहां कार्यक्रम काा सीधा प्रसारण भी हो रहा था। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का संबोधन चल रहा था कि कलेक्टर के बगल में बैठे निगमायुक्त व सहायक आयुक्त संजय खेड़कर को भी बीच-बीच में झपकी भी आ रही थी। द्वय अधिकारियों को बीच-बीच में आ रही झपकी मीडिया कर्मियों के कैमरे में कैद हो गयी है। इस बात की चर्चा है की जब दोनों विभाग के जिम्मेदार अधिकारी बीच-बीच में झपकी मार लेते हैं तो ऐसे मेें विभाग के अधिकारी अपने कर्तव्यों के प्रति कितने संवेदनशील होंगे। साथ ही यह भी चर्चा है कि उम्र का भी असर है। जब इस तरह से कैमरे कैद हो जायें तरह तरह-तरह की चर्चा होना लाजिमी है।

नव भारत न्यूज

Next Post

स्पीकर ने सीजीएम से मुलाकात कर कई बिंदुओं पर किया चर्चा

Tue Aug 9 , 2022
हर घर तिरंगा अभियान को सफल बनाने किया अपील सिंगरौली :नगर पालिक निगम सिंगरौली के नवनिर्वाचित स्पीकर देवेश पाण्डेय ने आज सोमवार को एनसीएल परियोजना जयंत के मुख्य महाप्रबंधक से मुलाकात कर नगरीय क्षेत्र के विकास सहित कई बिंदुओं पर चर्चा किये। जहां सीजीएम ने भरपूर सहयोग करने का आश्वासन […]