भोपाल शहर में बनेंगे नए फ्लायओवर, केबल कार चलाने का भी प्रस्ताव-शिवराज

भोपाल, 06 अगस्त (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भोपाल में नागरिकों को बेहतर परिवहन सुविधाएँ उपलब्ध करवाने, शहर को हरा-भरा बनाने, पेयजल और स्वच्छता के बेहतर प्रबंध के लिए सभी उपाय किए जाएंगे। इसके लिए भिन्न-भिन्न योजनाओं में पर्याप्त धनराशि का प्रावधान भी रहेगा। भोपाल के पंचवर्षीय विकास का रोडमैप शीघ्र प्रस्तुत किया जाएगा। केन्द्र सरकार द्वारा भोपाल में नए फ्लायओवर बनाने के लिए सहमति प्रदान की गई है। श्री चौहान आईएसबीटी परिसर स्थित नगर निगम कार्यालय के प्रांगण में भोपाल की नव-निर्वाचित महापौर श्रीमती मालती राय और पार्षदों के शपथ ग्रहण समारोह को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने महापौर श्रीमती राय और पार्षदों को बधाई दी।

श्री चौहान ने कहा कि पार्षद एवं अन्य जन-प्रतिनिधि विनम्रता के साथ जन-सेवा का उदाहरण प्रस्तुत करें। जन-प्रतिनिधि के व्यवहार और आम जनता के लिए किए गए कार्य के आधार पर छवि का निर्धारण होता है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश शासन की ओर से भोपाल नगर निगम को विकास कार्यो के लिए आवश्यक वित्तीय सहयोग किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हाल ही में केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी से भेंटकर उन्होंने भोपाल के लिए अनेक फ्लायओवर मंजूर करवाए हैं। अनेक फ्लायओवर प्रस्तावित हैं, जिनमें शौर्य स्मारक के पास स्थित भोपाल हाट चौराहे से 6 नंबर स्टॉप, आईएसबीटी से गौतम नगर, अयोध्या बायपास मार्ग से करोंद चौराहे तक, टी.टी. नगर स्टेडियम के पीछे से नानके पेट्रोल पंप-रोशनपुरा चौराहे से होते हुए पॉलीटेक्निक कॉलेज चौराहे तक और राऊखेड़ी पम्प हाऊस से संत हिरदाराम नगर के विसर्जन घाट तक फ्लायओवर शामिल हैं। इसके अलावा लेडी अस्पताल, काली मंदिर से अल्पना तिराहा-नादरा बस स्टेंड होते हुए शाहजहाँनाबाद थाने तक एलीवेटेड कॉरीडोर का निर्माण भी किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भोपाल में सड़क परिवहन के साथ ही निकट भविष्य में एयर कनेक्टिविटी से जुड़ी आधुनिक तकनीक का उपयोग कर आम जनता को नए परिवहन साधन उपलब्ध करवाए जाएंगे। इनमें केबल कार भी शामिल है। श्री चौहान ने कहा कि मेट्रो ट्रेन से संबंधित कार्य प्रगति पर है। जहाँ मेट्रो के संचालन से बढ़ती जनसंख्या के अनुरूप परिवहन में आसानी होगी। वहीं नए फ्लायओवर और केबल कार संचालन जैसी परिवहन सुविधाएँ भी शहरवासियों के लिए लाभकारी होंगी। डीजल और पेट्रोल के स्थान पर सीएनजी के उपयोग से वाहनों के संचालन की प्राथमिकता रहेगी, जिससे शहर के पर्यावरण पर भी विपरीत प्रभाव न पड़े।

श्री चौहान ने कहा कि भोपाल अद्भुत शहर है। मेरा बचपन भोपाल में ही गुजरा है। यहाँ की हर गली में सायकिल भी चलाई है। यहीं शिक्षा भी पूरी हुई है। मुझे भोपाल के विकास के लिए कार्य करने का सौभाग्य मिला है। मेरा संकल्प है कि मैं अपने बचपन के शहर का कर्ज उतारने का पूरा प्रयास करूँगा। भोपाल निरंतर आगे बढ़ रहा है। मैं प्रतिदिन पौधा लगाता हूँ। भोपाल की हरियाली बनी रहे, यह हम सभी का प्रयास होना चाहिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नगर को क्लीन और ग्रीन बनाने के लिए सभी जन-प्रतिनिधियों को सक्रिय भूमिका निभाने का आह्वान किया।

श्री चौहान ने कहा कि भोपाल हाईटेक सिटी में तब्दील हो रहा है। भोपाल मेट्रो सिटी बन रहा है। जो भी भोपाल आता है, यहाँ की सुंदरता देखता ही रह जाता है। चाहे भोजताल हो या छोटी झील, सभी की अद्भुत छटा देखने को मिलती है। पुराने शहर का चौक बाजार हो या बीएचईएल या गोविंदपुरा क्षेत्र, सभी अनोखे हैं। भोपाल ऐसा शहर बने जो लोगों को रोजगार देने में ज्यादा समर्थ हो। यहाँ अलग-अलग उद्योग आएँ, स्व-रोजगार के साधन बढ़ें। स्व-सहायता समूहों की भूमिका अधिक महत्वपूर्ण बनें। जल-प्रदाय के लिए बल्क कनेक्शन के स्थान पर व्यक्तिगत कनेक्शन देने और सीवेज प्रणाली को बेहतर बनाने के कार्य किए जाएंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भोपाल के गौरव दिवस पर बुनियादी सुविधाओं को मजबूत बनाने और विकास की रूपरेखा को जनता के सामने रखा जाएगा। पूर्व में निर्वाचन आचार संहिता के कारण गौरव दिवस का आयोजन नहीं किया जा सका था।

श्री चौहान ने कहा कि केन्द्र सरकार और मध्यप्रदेश सरकार की अनेक योजनाएँ संचालित हैं। नागरिकों को राशन, मकान, शिक्षा, इलाज के साथ ही अन्य हितग्राहीमूलक योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ मिलें, इसके लिए पार्षदगण सजग रहकर सक्रिय भूमिका निभाएँ। विकास कार्य भी गुणवत्ता के साथ हों। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सभी लोग “हर घर तिरंगा” अभियान में शामिल हों। मुख्यमंत्री ने अपील करते हुए कहा कि जन-प्रतिनिधि और नागरिक मिलकर राष्ट्रप्रेम के प्रतीक आजादी के अमृत महोत्सव पर हर घर राष्ट्रध्वज फहराएँ। सांसद श्री वी.डी शर्मा ने कहा कि भोपाल शहर को स्वच्छ और हरा-भरा बनाने के लिए निर्वाचित पार्षदगण को पूरी ऊर्जा से प्रयास करना है। उम्मीद है कि इसके लिए संकल्पबद्ध होकर प्रयासों को फलीभूत किया जाएगा। श्री चौहान ने कन्यापूजन के साथ कार्यक्रम शुरू करवाया। कलेक्टर भोपाल अविनाश लवानिया ने महापौर और पार्षदगण को शपथ ग्रहण करवाने की कार्यवाही पूर्ण की।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, पूर्व सांसद आलोक संजर, विधायक रामेश्वर शर्मा, श्रीमती कृष्णा गौर, पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता, सुमित पचौरी, भगवान दास सबनानी, राहुल कोठारी, लोकेंद्र पाराशर, शैतान सिंह पाल, सुरजीत सिंह चौहान, लिली अग्रवाल, जन-प्रतिनिधियों और बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।

नव भारत न्यूज

Next Post

जगदीप धनखड़ अगले उपराष्ट्रपति

Sat Aug 6 , 2022
नयी दिल्ली 06 अगस्त (वार्ता) राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता जगदीप धनखड़ को देश‌ का अगला उप राष्ट्रपति चुन लिया गया है। संसद भवन में शनिवार को हुए उप राष्ट्रपति चुनाव में श्री धनखड़ को 528 मत मिले हैं। चुनाव में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की […]