शिप्रा स्नान व महाकाल दर्शन के बाद टटवाल ने ली महापौर की शपथ

भारतीय जनता पार्टी के 37 पार्षदों का भी हुआ शपथ विधि समारोह

उज्जैन: नगर के प्रथम नागरिक महापौर बने मुकेश टटवाल ने शुक्रवार को भाजपा के 37 पार्षदों के साथ शपथ ली। इससे पहले सुबह उन्होंने शिप्रा स्नान किया और महाकाल दर्शन के लिए पहुंचे। आज नगर निगम के सदन में कांग्रेस पार्षदों को शपथ दिलाई जाएगी।महापौर का चुनाव जीतने के बाद भाजपा के मुकेश टटवाल ने 18 दिन बाद पार्टी के तय कार्यक्रम अनुसार कालिदास अकादमी में आयोजित शपथ विधि समारोह में भाजपा के 37 पार्षदों के साथ नगर के प्रथम नागरिक का दायित्व संभालने की शपथ ली। कलेक्टर आशीष सिंह द्वारा महापौर और पार्षदों को उनके 5 वर्षीय कार्यकाल की शपथ दिलाई गई।

कार्यक्रम में उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव, विधायक पारस जैन, सांसद अनिल फिरोजिया, पूर्व सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय, भाजपा नगर अध्यक्ष विवेक जोशी, अनिल जैन कालूखेड़ा सहित तमाम नेता और कार्यकर्ता उपस्थित थे।शपथ विधि के बाद महापौर मुकेश टटवाल ने कहा कि सबसे पहले वह 54 वार्डों में पार्षदों और जनप्रतिनिधियों के साथ भ्रमण करेंगे और वार्डों में प्राथमिकता अनुसार किए जाने वाले कामों को देखेंगे। उन्होंने कहा कि उनकी प्राथमिकता महाकाल मंदिर क्षेत्र को बैरिकेट से मुक्त करना रहेगी। शिप्रा शुद्धिकरण के लिए प्रदेश सरकार लगातार काम कर रही है। शिप्रा को शुद्ध बनाए रखने के लिए सरकार के कामों को आगे बढ़ायेंगे।शपथ विधि समारोह से पहले महापौर सबसे पहले सुबह शिप्रा नदी स्थित रामघाट पहुंचे थे जहां उन्होंने विधि विधान के साथ शिप्रा नदी का पूजन किया और दुग्ध अभिषेक कर आस्था की डुबकी लगाई। उसके बाद बाबा महाकाल को नमन करने मंदिर पहुंचे। उन्होंने गुरुद्वारे पहुंचकर भी मत्था टेका।
आज सदन में कांग्रेस के 17 पार्षद लेंगे शपथ
आज नगर निगम का पहला सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। जिसमें सबसे पहले कलेक्टर द्वारा कांग्रेस के 17 पार्षदों को शपथ दिलाई जाएगी। इसके बाद निगम सभापति का चयन किया जाएगा। भाजपा का बहुमत होने पर सभापति भी भाजपा का ही रहेगा। लेकिन दावेदारों की संख्या चार से पांच होने पर मामला प्रदेश स्तर तक पहुंच गया था। जहां से सभापति का नाम तय किया जाएगा। वैसे सभापति के लिए भाजपा की और से 6 बार पार्षद रह चुकी कलावती यादव का नाम पहले नंबर पर है। लेकिन ब्राह्मण वर्ग से सभापति बनाए जाने की मांग के बाद वार्ड क्रमांक 29 से चुनाव जीते भाजपा के रामेश्वर दुबे का नाम सबसे आगे दिखाई दे रहा है। सभापति के लिए शिवेंद्र तिवारी, प्रकाश शर्मा और सत्यनारायण चौहान के नाम भी सामने आए। सभापति कौन होगा इसका फैसला आज सदन में होगा।
विपक्ष नेता बन सकते हैं रवि राय
नगर निगम में भाजपा का वोट बनने के बाद कांग्रेस विपक्ष की भूमिका में है। जिसके चलते रवि राय को विपक्ष का नेता बनाया जा सकता है। वहीं विपक्षी नेता के रूप में माया राजेश त्रिवेदी का नाम भी सामने आया है। इससे पहले कांग्रेस के 17 पार्षदों में से 7 मुस्लिम पार्षद होने पर विपक्ष का नेता मुस्लिम पार्षद बनाए जाने की बातें सामने आई थी। लेकिन पूर्व में भी कांग्रेस को जीत दिला चुके रवि राय पर अधिक भरोसा जताया जा रहा है।

नव भारत न्यूज

Next Post

अपराधों में कड़ाई के साथ रोक लगाये - विधानसभा अध्यक्ष

Sat Aug 6 , 2022
साइवर सेल को बनाया जाय प्रभावी, पुलिस चौकियों का निर्माण शीघ्र किया जाय रीवा: विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने राजनिवास में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि मनिकवार, बहुती एवं सीतापुर में पुलिस चौकी का निर्माण शीघ्र किया जाय. ग्रामों में पुलिस चौकी खुल जाने से तथा पुलिस […]