गांधी प्राणी उद्यान में दूसरी बार मां बनी सफेद शेरनी को दिए जा रहे हैं उबले अंडे और चिकन सूप

उसके असामान्य रूप से जन्मे दूसरे शावक के लिए लिया जा रहा है देश के वरिष्ठ पशु चिकित्सकों मार्गदर्शन

ग्वालियर : गांधी प्राणी उद्यान सफेद शेरनी मीरा द्वारा दो शावकों को जन्म देने बाद खुशियां छा गई हैं। शावकों को जन्म देने वाली शेरनी मीरा पर विशेष निगरानी रखी जा रही है, उसे भोजन के रूप में उबले हुए अंडे, दूध और चिकन सूप दिया जा रहा है। वहीं देश के वरिष्ठ पशु चिकित्सकों से उसके एक शावक के लिए मार्गदर्शन लिया जा रहा है।
गांधी प्राणी उद्यान(चिड़िया घर) में सफेद शेरनी मादा मीरा द्वारा 31 अगस्त व एक सितंबर की मध्यरात्रि को 02 शावकों को जन्म दिया ।जिनमें से एक शावक सफेद एवं एक पीला है।

मादा मीरा एवं नर लव के द्वारा दूसरी बार शावकों को जन्म दिया गया है, इससे पहले उक्त मादा द्वारा वर्ष 2018 में तीन शावकों को जन्म दिया गया था, जिससे एक सफेद व दो पीले शावक थे, उल्लेखनीय है कि गांधी प्राणी उद्यान में वर्ष 2010 में नेशनल जूलोजिकल पार्क नई दिल्ली से व्हाईट टाइगर मादा जमुना ग्वालियर लाई गई थी, तभी से चिड़ियाघर में संरक्षित शेरों के कुनबे में बढ़ोतरी हुई है।

वर्तमान में मादा मीरा एवं उसका एक पीला शावक स्वस्थ्य हैं, परंतु दूसरा नवजात शावक अस्वस्थ प्रतीत हो रहा है, जिसकी गर्दन जन्मजात असमान्य है, जिसके लिए नगर निगम प्रशासन द्वारा उपचार के लिए देश के वरिष्ठ पशु चिकित्सकों द्वारा मार्गदर्शन प्राप्त किया जा रहा है, निगमायुक्त आशीष तिवारी द्वारा चिड़िया घर प्रभारी को निर्देशित किया है कि शिशु शावकों के स्वास्थ्य पर विशेष निगरानी रखने के साथ ही उन्हें तीस से चालीस दिन तक आइसोलेशन में रखा जाए। साथ ही स्वास्थ्य संबंधी केन्द्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण के समस्त प्रोटोकॉल का पालन किया जाए।

नव भारत न्यूज

Next Post

पेट्रोल और डीजल की कीमतेें यथावत

Fri Sep 3 , 2021
नयी दिल्ली 03 सितंबर (वार्ता) अंतर्रष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतों में उछाल आने के बावजूद आज दिल्ली में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया। बुधवार को इन दाेनों की कीमतों में सात दिनों के बाद 15-15 पैसे प्रति लीटर की कमी की गयी थी। […]