नगरीय निकाय: अध्यक्ष एवं उपाध्यक्षों के चुनाव की तिथि घोषित

नगर परिषद रामपुर नैकिन एवं मझौली में 10 को तथा नगर पालिका सीधी एवं नगर परिषद चुरहट में 12 को होगा निर्वाचन

सीधी: जिले में नगरीय निकायों के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष के निर्वाचन की तिथि घोषित कर दी गई है। कलेक्टर मुजीबुर्रहमान खान द्वारा तत्संबंध में निर्वाचन कराने के लिए आदेश भी जारी कर दिए गए हैं। नगरीय निकायों में अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष का निर्वाचन दो चरणों में होगा। प्रथम चरण में 10 अगस्त को सुबह 11 बजे से नगर परिषद रामपुर नैकिन एवं मझौली में अध्यक्ष व उपाध्यक्ष का निर्वाचन होगा। द्वितीय चरण में 12 अगस्त को नगर पालिका परिषद सीधी एवं नगर परिषद चुरहट में सुबह 11 बजे से निर्वाचन की कार्यवाई शुरू होगी।नगर परिषदों में क्षेत्रीय एसडीएम को पीठासीन अधिकारी नियुक्त किया गया है।

जबकि नगर पालिका परिषद सीधी में पीठासीन अधिकारी कलेक्टर मुजीबुर्रहमान खान होंगे। उनकी अध्यक्षता में ही नगर पालिका सीधी में अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष का चुनाव किया जाएगा। कलेक्टर द्वारा मप्र नगर पालिका अधिनियम 1916 की धारा 55(2) के तहत प्रदत्त शक्तियों को प्रयोग में लाते हुए नगर पालिका सीधी, नगर परिषद चुरहट, रामपुर नैकिन एवं मझौली के अध्यक्ष तथा उपाध्यक्ष के निर्वाचन हेतु निर्वाचित पार्षदों का प्रथम सम्मिलन हेतु कार्यक्रम नियत किया गया है। 10 अगस्त को सुबह 11 बजे से नगर परिषद रामपुर नैकिन में प्रथम सम्मिलन की अध्यक्षता नगर परिषद के सभागार कक्ष में एस.पी.मिश्रा उपखंड अधिकारी चुरहट करेंगे। इसी दिन नगर परिषद मझौली में नगर परिषद के सभागर कक्ष में प्रथम सम्मिलन की अध्यक्षता सुरेश अग्रवाल उपखंड अधिकारी मझौली करेंगे।

12 अगस्त को नगर पालिका सीधी के प्रथम सम्मिलन की अध्यक्षता कलेक्टर सीधी नगर पालिका के सभागार कक्ष में सुबह 11 बजे से करेंगे। इसी दिन नगर परिषद चुरहट में प्रथम सम्मिलन की अध्यक्षता सुबह 11 बजे से नगर परिषद के सभागार कक्ष में एसपी मिश्रा उपखंड अधिकारी चुरहट करेंगे। उक्त नामांकित अधिकारी समय व स्थल पर अध्यक्ष/उपाध्यक्ष का निर्वाचन हेतु प्रथम सम्मिलन की सूचना/कार्यवाई मध्यप्रदेश नगर पालिका अध्यक्ष/उपाध्यक्ष का निर्वाचन नियम 2019 एवं मप्र नगर पालिका अधिनियम 1961 के प्रावधानित नियमों के अंतर्गत विधिपूर्वक संपन्न कराया जाना सुनिश्चित करेंगे। इसके लिए तैयारियां भी शुरू हो चुकी हैं। उधर नगरीय निकायों के अध्यक्ष-उपाध्यक्ष के निर्वाचन की तिथि जारी होते ही दावेदारों की सक्रियता बढ़ गई है।भाजपा-कांग्रेस पार्षदों के साथ ही कुछ निर्दलीय प्रत्याशी भी अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष पद के लिए अपनी दावेदारी जता रहे हैं। जानकारों के अनुसार नगर पालिका सीधी में अध्यक्ष का पद पिछड़ा वर्ग महिला एवं नगर परिषद चुरहट में अध्यक्ष का पद अनारक्षित होने के बाद अब नए दावेदार सामने आ रहे हैं। उनके द्वारा नवनिर्वाचित पार्षदों से लगातार संपर्क कर समर्थन की मांग की जा रही है।

नगरीय निकायों में पार्षदों की स्थिति
अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष के पद को लेकर नगर पालिका सीधी के साथ ही नगर परिषद मझौली, चुरहट एवं रामपुर नैकिन में कांटे की टक्कर होने की संभावना जताई जा रही है। नव निर्वाचित पार्षदों के आंकड़ों पर गौर किया जाए तो 24 वार्ड के नगर पालिका सीधी में कांग्रेस के 14, भाजपा को 6, निर्दलीय 3 एवं आप का 1 पार्षद निर्वाचित हुआ है। इसी तरह 15 वार्ड की नगर परिषदों में चुरहट में कांग्रेस को 10, भाजपा को 3 एवं 2 वार्डों में निर्दलीय को जीत मिली है। नगर परिषद रामपुर नैकिन में भाजपा को 8 एवं कांग्रेस को 7 सीटें मिली हैं। नगर परिषद मझौली में कांग्रेस के 2, भाजपा के 11 तथा 2 निर्दलयी पार्षद निर्वाचित हुए हैं।

जानकारों के अनुसार कुछ ऐसे भी पार्षद अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष को लेकर अपनी दावेदारी जता रहे हैं जिनकी पार्टी के कम पार्षद निर्वाचित हुए है फिर भी उनके द्वारा अपने स्तर से निर्दलियों एवं अन्य दल के पार्षदों से संपर्क किया जा रहा है। जिससे उनका समर्थन बढ़ सके। जानकारों के अनुसार कुछ निर्दलीय पार्षद भी अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष बनने के लिए काफी सक्रियता के साथ नव निर्वाचित पार्षदों से सतत संपर्क बनाए हुए हैं। नगरीय निकाय के निर्वाचन में अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष पद पर अपने समर्थित पार्षदों को बैठाने के लिए भाजपा-कांग्रेस पूरी मुस्तैदी के साथ सक्रिय हैं। राजनैतिक दलों के बड़े नेता भी लगातार प्रयास कर रहे है कि उनके पार्टी का पार्षद ही अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष पद का निर्वाचित हो सके। मांग बढ़ती देखकर कई पार्षदों ने समर्थन को लेकर चुप्पी साध रखी है।

नव भारत न्यूज

Next Post

ममता मंत्रिमंडल का विस्तार , बाबुल सुप्रियो कैबिनेट में शामिल

Thu Aug 4 , 2022
कोलकाता  (वार्ता) पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल करते हुये चार मंत्रियों को हटाया है और पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो समेत आठ नए चेहरों को शामिल किया। श्री सुप्रियो , जिन्होंने पिछले साल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) छोड़ दी थी और केंद्रीय […]