जिले के 5 वन ग्राम बनेंगे राजस्व ग्राम प्रारंभिक तैयारियां हुई शुरू

इंदौर: राज्य शासन द्वारा दिये गये दिशा-निर्देशों के अनुसार इंदौर जिले की 5 वन ग्रामों को राजस्व ग्रामों में परिवर्तित किया जाएगा. इनमें महू तहसील के तीन तथा बिचौली हप्सी और खुड़ैल के एक-एक गाँव शामिल है. वन ग्रामों को राजस्व ग्रामों में परिवर्तित करने की प्रारंभिक तैयारियां शुरू हो गई हैं. इन्हीं तैयारियों की समीक्षा के लिये आज यहाँ कलेक्टर मनीष सिंह ने बैठक ली.

बैठक में आदिम जाति कल्याण विभाग, राजस्व विभाग तथा वन विभाग के अधिकारी मौजूद थे. बैठक में बताया गया कि राज्य शासन द्वारा दिये गये दिशा-निर्देशानुसार जिले के 5 वन ग्रामों को राजस्व ग्रामों में परिवर्तित किया जाना है. इनमें महू तहसील के रसकुंडिया, तेलनमाल तथा उमठ, बिचौलीहप्सी का नेहरू वन ग्राम तथा खुड़ैल तहसील का नाहर झाबुआ वन ग्राम राजस्व ग्राम में परिवर्तित होगा. कलेक्टर मनीष सिंह ने सभी औपचारिकताएं यथाशीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिये.

उन्होंने निर्देश दिये कि वन ग्रामों के निवासियों की संपूर्ण जानकारी, गाँव में उपलब्ध सुविधाएं, संसाधन और अधोसंरचनाओं की जानकारी निर्धारित प्रपत्र में एकत्रित करें. सामुदायिक परिसंपत्तियों की जानकारी भी एकत्रित की जाए. उन्होंने निर्देश दिये कि शीघ्र ही ग्राम सभा और वनाधिकार समिति के माध्यम से प्रस्ताव तैयार करवाकर अनुमोदन कराया जाये तथा उसे जिला समिति के समक्ष प्रस्तुत करें.

नव भारत न्यूज

Next Post

म.प्र.ट्रांसको का ग्रीन एनर्जी कॉरिडोर प्रोजेक्ट पूर्ण

Wed Aug 3 , 2022
जबलपुर:ग्रीन एनर्जी कारीडोर स्कीम के मध्य प्रदेश के हिस्से का काम पूरा कर प्रदेश ने उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल की है | मध्यप्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने बताया कि जर्मनी के के.एफ.डब्ल्यू बैंक द्वारा वित्त पोषित इस प्रोजेक्ट का अंतिम कार्य गत दिवस मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी […]