चरित्र संदेह में पति ने की पत्नी की हत्या

मुरैना: एक पति ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी। उसने पहले पत्नी को लाठी-डंडों से पीटा तथा बाद में उसकी पत्थर से कुचलकर हत्या कर दी। घटना की मुख्य वजह चरित्र संदेह बताई जा रही है। पति ने पहले पत्नी को अपने दोस्तों के साथ पीटा और बाद में उसके सिर पर खंडा पटक दिया। खंडा पटकने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। रौंगने खड़े कर देने वाली यह घटना मुरैना के जारह गांव की है। घटना के बाद सरायछोला थाना पुलिस ने पति को पकड़ लिया।

मुरैना के सरायछोला थानार्न्तगत जारह गांव में रजनी जाटव, उम्र 32 वर्ष का उसके पति बंटी जाटव के बीच चरित्र संदेह को लेकर आए दिन झगड़ा होता रहता था। बंटी जाटव अपनी पत्नी के चरित्र पर संदेह किया करता था। इस दिन झगड़ा इतना बढ़ गया कि रजनी जाटव अपने पति के साथ उलझ पड़ी जिस पर पति ने उसके साथ मारपीट कर दी। मारपीट के बाद वह सरायछोला थाना पहुंची और उसने अपने पति के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज कराने आवेदन दिया। घर लौटने पर जब पति बंटी जाटव को पता लगा कि उसकी पत्नी उसकी रिपोर्ट लिखाने थाने गई तो वह अपना आपा खो बैठा और उसने अपने कुछ दोस्तों को बुला लिया और उसकी पहले तो जमकर मारपीट की और बाद में आवेश में आकर उसके सिर पर खंडा पटक दिया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

घटना के बाद सरायछोला थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई तथा उसने पति बंटी जाटव को उसके दोस्तों सहित गिरफ्तार कर लिया।पति बंटी जाटव को अपनी पत्नी रजनी के चरित्र पर संदेह था, जिसको लेकर वह उसकी आए दिन उसकी मारपीट किया करता था। जब रजनी से यह बर्दाश्त नहीं हुआ तो वह सरायछोला थाना पहुंची और उसने उसके खिलाफ मारपीट करने की रिपोर्ट लिखा दी। इस बात से वह उससे नाराज हो गया और उसने उसकी पहले पिटाई की और सिर पर खंडा पटककर हत्या कर दी। घटना के बाद पुलिस ने शव का पीएम कराया।सरायछोला थाना प्रभारी शिव कुमार शर्मा के मुताबिक इस घटना में शामिल पति बंटी जाटव व उसके मित्रों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उनसे पूछताछ की जा रही है।

नव भारत न्यूज

Next Post

गन्ना उत्पादन से चंबल में आएगी खुशहाली मिलेगा रोजगार

Sun Jul 31 , 2022
मुरैना: भारतीय गन्ना अनुसंधान केंद्र लखनऊ के वैज्ञानिक डाक्टर एस एन सिंह ने मुरैना मे 16000 हेक्टेयर मे चम्बल नहर से सिचाई व पर्याप्त भूजल उपलब्धता के आधार पर कैलारस मे 3500 मेट्रिक टन प्रतिदिन पिराई क्षमता के कारखाने से सफलता पूर्वक उत्पादन का मत व्यक्त किया है।उन्होने लिखा है […]