नीरज ने विश्व चैंपियनशिप में 19 साल बाद भारत को दिलाया पदक

यूजीन, 24 (वार्ता) टोक्यो ओलंपिक के स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा ने शनिवार (भारत में रविवार सुबह) को इतिहास रचते हुए विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप की भाला फेंक प्रतियोगिता में रजत पदक जीता।

नीरज ने अमेरिका के यूजीन में विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप के फाइनल में 88.13 मीटर के थ्रो के साथ भारत को 19 साल बाद विश्व चैंपियनशिप पदक दिलाया।
इससे पहले भारत का एकलौता विश्व चैंपियनशिप पदक 2003 में आया था जब अंजू बॉबी जॉर्ज ने महिला लंबी कूद में कांस्य पदक जीता था।

इसी के साथ नीरज विश्व चैंपियनशिप में भारत के लिये पदक जीतने वाले दूसरे भारतीय और पहले पुरुष एथलेटिक्स बन गये।चोपड़ा के फाइनल की शुरुआत फाउल के साथ हुई।24 वर्षीय नीरज ने दूसरे और तीसरे प्रयास में क्रमशः 82.39 मीटर और 86.37 मीटर का थ्रो किया।

भारत को ओलंपिक में पहला स्वर्ण दिलाने वाले नीरज ने चौथे प्रयास में वापसी करते हुए88.13 मीटर का थ्रो किया, जिसकी बदौलत वह दूसरे स्थान पर पहुंच गये।उनका पांचवां और आखिरी थ्रो हालांकि फाउल रहा, लेकिन वह भारत को विश्व चैंपियनशिप का पहला रजत दिलाने में कामयाब रहे।

पूर्व चैंपियन ग्रेनाडा के एंडरसन पीटर्स ने अपने खिताब की रक्षा करते हुए 90.54 मीटर के थ्रो के साथ लगातार दूसरी बार स्वर्ण हासिल किया।वहीं, ओलंपिक के रजत पदक विजेता जुकुब वाडलेक को 88.9 मीटर के थ्रो के साथ कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।

इसी इवेंट में भारत के रोहित यादव ने 78.72 मीटर थ्रो के साथ 0वें स्थान पर रहे।इससे पहले के उनके दो प्रयास 77.96 मीटर और 78.05 मीटर रहे थे।

नव भारत न्यूज

Next Post

‘भाभीजी घर पर हैं’ के मलखान का निधन

Sun Jul 24 , 2022
मुंबई, (वार्ता) प्रसिद्ध टीवी सीरियल ‘भाभीजी घर पर हैं’ में मलखान का किरदार निभाने वाले दीपेश भान का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। सूत्रों के अनुसार 41 वर्षीय दीपेश अपने दोस्तों के साथ क्रिकेट खेलते हुए बेहोश हो गये, इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया।अस्पताल […]