पश्चिमी क्षेत्र के नए बायपास पर सैद्धातिंक सहमति

सांसद लालवानी की गडकरी से मुलाकात में इंदौर को मिली सौगात

इंदौर:  इंदौर की रोड कनेक्टिविटी बेहतर करने और चल रहे प्रोजेक्ट्स को तेजी से पूरा करने के लिए सांसद शंकर लालवानी ने केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात की. इस मुलाकात में इंदौर के पश्चिमी क्षेत्र में बायपास को सैद्धांतिक मंजूरी मिल गई है. केंद्र और प्रदेश सरकार के वरिष्ठ अधिकारी इस दिशा में बैठक करेंगे.
इस सड़क के बनने के साथ ही इंदौर में बायपास का सर्कल पूरा हो जाएगा. नया बायपास देवास नाके से शुरू होकर सांवेर रोड, देपालपुर, धार रोड होते हुए राऊ में एबी रोड पर मिलेगा.

इस बायपास के बनने से इंदौर शहर में भारी वाहनों का आवागमन कम होगा और दुर्घटनाओ में कमी आएगी. सांसद शंकर लालवानी ने केंद्रीय मंत्री गडकरी का धन्यवाद देते हुए कहा कि इस बैठक में इंदौर से जुड़े कई महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट्स पर चर्चा हुई है और इन पर तेजी से काम आगे बढ़ेगा. बैठक में प्रसिद्ध तीर्थ ओंकारेश्वर में नर्मदा नदी पर बनने वाले पुल भी चर्चा हुई है. ये पुल आधुनिक तकनीक और खूबसुरती का मेल होगा. साथ ही, इंदौर के पास बनने वाले मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक्स हब पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने सैद्धातिंक सहमति दी है.

इंदौर-जयपुर के बीच कनेक्टिविटी के लिए होगा काम
इसके अलावा सांसद लालवानी ने इंदौर और जयपुर के बीच बेहतर कनेक्टिविटी के लिए उज्जैन से झालावाड़ तक सड़क बनाने की मांग की थी जिस पर केंद्रीय मंत्री ने आने वाले समय में इस पर काम शुरू करने के लिए कहा. इंदौर से बैतूल होते हुए नागपुर तक चल रहे कामों पर भी चर्चा हुई. इंदौर से नेमावर के बीच काम तेजी से चल रहा है। साथ ही इंदौर से हरदा के बीच कुछ जगहों पर स्थानीय प्रशासन को भूमिअधिग्रहण करना है जिस पर गडकरी ने काम में तेजी लाने का निर्देश दिया है. इंदौर से खंडवा होकर अकोला जाने वाली सड़क पर भी अब तेजी से काम होगा. भंवरकुआं से तेजाजी नगर के इस लिए हाल ही में नगर निगम को राशि स्वीकृत की गई है। साथ ही तेजाजी नगर से सनावद के बीच जमीन तेजी से अधिग्रहित करने का निर्देश दिया गया है ताकि इसका काम शुरू किया जा सके.

नव भारत न्यूज

Next Post

रेलवे के डॉक्टर ने इंजेक्शन लगा खुदकुशी की

Wed Sep 1 , 2021
पत्नी और ससुरालियों से परेशान था ग्वालियर: यहां रेलवे के एक डॉक्टर ने अपनी पत्नी, ससुर और साली से परेशान होकर खुद को जहरीला इंजेक्शन लगाकर जान दे दी। डॉक्टर ने हॉस्पिटल की चार पर्चियों पर सुसाइड नोट छोड़ा है। सुसाइड नोट में उन्होंने लिखा है कि मैंने आपके हाथ-पैर […]