रीवा के विकास को आगे बढ़ाने का समय है, काम वही करेगा जिसनें काम करके दिखाया: पूर्व मंत्री राजेन्द्र शुक्ला

केन्द्र और राज्य की कल्याणकारी योजनाओं को गिनाया, महत्वपूर्ण चुनाव को बताया महत्वपूर्ण

रीवा:पूर्व मंत्री एवं रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ला ने कहा कि भाजपा सरकार बनने के बाद से रीवा के विकास के लिये योजनाबद्ध तरीक से कार्य किया गया. विकास के लिये जो कार्य होना चाहिये था वह किया गया. परिणाम स्वरूप आज लोग कहते हैं कि रीवा की तस्वीर बदल गई है. प्रति व्यक्ति आय बढ़ी है, बाणसागर के नहरों से पानी किसानों के खेत तक पहुंचा जिससे उत्पादन बढ़ा है और किसानों की आमदनी बढ़ी है. रीवा के विकास को आगे बढ़ाने का समय है. काम वही करेगा जिसने काम करके दिखाया है. श्री शुक्ल पार्टी कार्यालय अटल कुंज में पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे. इस दौरान जिलाध्यक्ष डा0 अजय सिंह, प्रदेश मीडिया सह प्रभारी अनिल पटेल मौजद रहे.

उन्होंने बताया कि लाइनलास सहित बिजली की अन्य समस्याओं को देखते हुए दो सौ करोड़ की योजना का प्रस्ताव भेजा जा रहा है. जिसमें हम अण्डर ग्राउण्ड बिजली लाइन डालेंगे. उन्होंने केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही विकास सहित गरीबों से जुड़ी योजनाओं का भी जिक करते हुए कहा कि बाणसागर परियोजना से किसानों की आमदनी बढ़ी, व्यापार भी विस्तारित हुआ, पलायन पर भी रोक लग रही है. 21 वीं सदी में प्रवेश करने के बाद रीवा में फ ोरलेन सपना था, आज रिंग रोड, बाईपासए फ ोरलेन, ओव्हरब्रिज आपकी आंखों के सामने है. कांग्रेस पर हमला बोलते हुए पूर्व मंत्री व रीवा विधायक श्री शुक्ला ने कहा कि अच्छी सरकार वह होती है जो भविष्य को ध्यान में रखकर काम करें. जबकि कांग्रेस शासनकाल में रीवा एक गांव या तहसील तक ही सिमट कर रह गया था. नीम चौराहा से करहिया व झिरिया तक मास्टर प्लान के तहत बाईपास सडक़ से आवागमन को डायवर्ड करते हुए शहर को जाम से राहत दिलाई जा रही है. एक सवाल के जवाब में श्री शुक्ला ने कहा कि वर्तमान समय पर हो रहे निगम चुनाव हर किसी के लिए महत्वपूर्ण है. बचे हुए काम को पूरा करना हम सब की जरूरत व जिम्मेदारी है.
एक और फिल्टर प्लांट बनाया जायेगा
श्री शुक्ल ने बताया कि आधा शहर खारे पानी से निस्तार करता था. आज 5 करोड़ 40 लाख लीटर के फि ल्टर प्लांट है. जल्द ही 40 करोड़ खर्च कर एक और फि ल्टर प्लांट तथा टंकी का निर्माण होगा. अमृत योजना के तहत 95 करोड़ का डीपीआर मंजूर हो चुका है. उन्होंने शिक्षा व चिकित्सा के सवाल पर कहा कि सुपर स्पेशलिटी के बाद नागपुर, भोपाल, दिल्ली के कई नामी मेडिकल सेंटर रीवा में अस्पताल खोलना चाह रहे हैं. निश्चित तौर पर यह क्षेत्र जल्द ही बड़ा मेडिकल हब होगा तथा लोगों को नागपुर जाने की जरूरत नहीं रहेगी. उन्होंने बताया कि बीहर नदी पर बन रहे रिवर फ्र ंट में लग रही राशि शासन नहीं बल्कि निजी पंूजी है. तेजी के साथ निर्माण का काम चल रहा है.

नव भारत न्यूज

Next Post

अंग्रेजों का जीन कांग्रेस के खून में है: वीडी शर्मा

Sun Jun 26 , 2022
बोले: हम प्रदेश के 16 ननि और 79 नपा समेत 255 नगर परिषद में जीत कर आएंगे जबलपुर: हम चुनाव में हैं और सभी जानते हैं कि कांग्रेस छल, प्रपंच, झूठ और फूट डालो-राज करो की नीति पर काम कर रही है। इसीलिए मैं कहता हूं कि अंग्रेजों का जीन […]