प्रशासनिक तंत्र निर्भीक और निष्पक्ष रहकर चुनाव कराये और लोकतंत्र के महापर्व को सफल बनाये

भोपाल, 22 जून 2022-मध्यप्रदेश में नगरीय निकाय और पंचायतों के चुनाव हो रहे हैं । लोकतंत्र के इस महापर्व को आयोग की निगरानी में सफलतापूर्वक सम्पन्न कराने की जिम्मेदारी राजनैतिक दलों, प्रशासन और जनता जनार्दन की है, परन्तु निष्पक्ष, स्वतंत्र और पारदर्शी तरीके से चुनाव कराना प्रशासन की प्राथमिक जिम्मेदारी है ।

अनैतिकता एवं सौदेबाजी की नींव पर खड़ी भाजपा सरकार से शुचिता की उम्मीद नहीं की जा सकती है और उसके द्वारा प्रशासनिक मशीनरी पर दबाव डालकर उसका दुरूपयोग किये जाने की सम्भावनाओं से इंकार भी नहीं किया जा सकता, परंतु मुझे विश्वास है कि मध्यप्रदेश की प्रशासनिक मशीनरी चुनावों को संवैधानिक मूल्यों का पालन करते हुए निष्पक्षता से सम्पन्न करायेगी।

लोकतंत्र में प्रशासन तंत्र की निगरानी कर जनता निरंतर मूल्यांकन करती है। चुनाव में स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी तंत्र सदैव सराहा जाता है और अन्यथा विपरीत परिस्थितियॉ बनती है और परिणाम भी भुगतने पड़ते हैं, इसलिये चुनावों में सच्चाई के साथ मजबूती से खड़े हो और आगामी समय में मध्‍यप्रदेश के नवनिर्माण में साथ काम करें।
प्रशासनिक तंत्र निर्भीक और निष्पक्ष रहकर चुनाव कराये और लोकतंत्र के महापर्व को सफल बनाये ।

नव भारत न्यूज

Next Post

महाराष्ट्र के हित में फैसला लेने का समय आ गया:शिंदे

Wed Jun 22 , 2022
मुंबई, 22 जून (वार्ता) शिव सेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे ने आज एक ट्वीट कर कहा है कि महाराष्ट्र के हित में फैसला लेने का समय आ गया है। श्री शिंदे ने कहा है कि बेमेल गठबंधन से शिव सेना का भला नहीं हो रहा था। इसलिए बेमेल गठबंधन […]