यूक्रेन से 20 लाख से अधिक लोगों को निकाला गया

मास्को 22 जून (वार्ता/स्पूतनिक) रूस के विशेष सैन्य अभियान की शुरुआत के बाद से डोनेट्स्क और लुगांस्क पीपुल्स रिपब्लिक (डीपीआर और एलपीआर) तथा यूक्रेन के खतरनाक क्षेत्रों से 20 लाख से अधिक लोगों को मास्को पहुंचाया गया है।
रुसी रक्षा नियंत्रण केंद्र के प्रमुख व मानवीय प्रतिक्रिया समन्वय मुख्यालय का भी नेतृत्व करने वाले कर्नल जनरल मिखाइल मिज़िंटसेव ने यह जानकारी दी। उन्होंने एक ब्रीफिंग में कहा,“पिछले दिनों यूक्रेनी पक्ष की भागीदारी के बिना 3,826 बच्चों सहित 21,947 लोगों को यूक्रेन और डोनबास गणराज्यों के खतरनाक क्षेत्रों से रूसी संघ के क्षेत्र में निकाला गया। विशेष सैन्य अभियान की शुरुआत के बाद से अब तक कुल मिलाकर 318,144 बच्चों सहित 20,02,773 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है।”
गौरतलब है कि यूक्रेन के सैनिकों से सुरक्षा के लिए डोनेट्स्क और लुगांस्क पीपुल्स रिपब्लिक के आह्वान के जवाब में रूस ने 24 फरवरी को यूक्रेन में एक विशेष सैन्य अभियान शुरू किया। रूसी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि ऑपरेशन का लक्ष्य यूक्रेन को ‘विसैन्यीकरण और निंदा’ करना है और डोनबास को पूरी तरह से मुक्त करना है।
रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कि ऑपरेशन का उद्देश्य आठ साल तक यूक्रेन शासन द्वारा नरसंहार के शिकार लोगों की रक्षा करना है। पश्चिमी देशों ने रूस पर कई प्रतिबंध लगाए हैं और यूक्रेन को हथियारों की आपूर्ति करते रहे हैं।

नव भारत न्यूज

Next Post

राष्ट्रपति चुनाव में द्रौपदी मुर्मू होंगी राजग की उम्मीदवार

Wed Jun 22 , 2022
नयी दिल्ली,  (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) ने देश के 16वें राष्ट्रपति के चुनाव के लिए एक आदिवासी महिला उम्मीदवार के रूप में झारखंड की पूर्व राज्यपाल श्रीमती द्रौपदी मुर्मू को चुना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी और भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश […]