पिछली बार भाजपा बहुत कम अंतर से जीती थी,इसीलिए अब घबराहट

खंडवा:नगर निगम पर लगातार पांचवीं बार भाजपा ने विजयी परचम लहराने की जुगत में है। तमाम राजनैतिक गणित और कयासों पर विराम लगाने और टिकट के दावेदार ज्यादा होने के कारण अभी प्रत्याशी घोषित नहीं हो पा रहा है।पिछले चुनाव के गणित पेपर भाजपा के महापौर प्रत्याशी सुभाष कोठारी ने यह विजय निकटतम प्रतिद्वंदी कांग्रेस के अजय ओझा को 3 हजार 415 मतों से पराजित कर दिया था।
शहर के 33 वार्डो में भाजपा के पार्षदों ने जीत दर्ज की थी, जबकि कांग्रेस के प्रत्याशी 14 वार्डो में सफलता पा सके थे।

शहर के तीन वार्डो में मतदाताओं ने कांग्रेस और भाजपा दोनों को नकार कर निर्दलीय प्रत्याशियों के सिर जीत का सहरा बांध दिया था। यह चुनाव वर्ष 2014 में हुए थे। 4 दिसम्बर को घोषित किये गए थे। नगर पालिक निगम खण्डवा के महापौर पद के लिए कुल 94549 विधिमान्य मतों की गणना की गई थी। साथ ही 327 विधिमान्य निर्वाचन मतपत्र की गणना भी की गई थी।

जिसमें सुभाष कोठारी ने जीत हासिल की थी।कोठारी को 48,004 मत प्राप्त हुए। वहीं उनके निकटतम अभ्यार्थी अजय ओझा को 44,527 मत प्राप्त हुए थे। इसमें निर्वाचन कत्र्तव्य मतपत्र की 327 विधिमान्य मतपत्रों में से 188 सुभाष कोठारी को प्राप्त हुए। वहीं अजय ओझा को 126 निर्वाचन कत्र्तव्य मतपत्र मिले थे। इसके साथ ही महापौर के लिए निर्दलीय अभ्यार्थी शेख जाकीर को 2,332 मत मिले थे।

नव भारत न्यूज

Next Post

चुनावी खून खराबे से पहले 10 तमंचों समेत 3 पकड़ाए

Sat Jun 11 , 2022
खंडवा: नगरीय निकाय यानी महापौर और पंचायत के चुनाव में कोहराम मचाने से पहले ही हथियारों के सौदागर पकड़ा गए। खकनार से खंडवा और आसपास दस देसी पिस्टलों की सप्लाई होनी थी। काली मोटरसाइकिल से खंडवा की तरफ यह सौदागर आगे बढ़ रहे थे। गुड़ी पिपलोद से ही इनका पीछा […]