280 करोड़ की भूमि पर बने निर्माणों को ध्वस्त करने चले बुलडोजर

माढ़ोताल तालाब का होगा सौंदर्यीकरण, तालाब में पानी पहुँचने में बाधक बने निर्माणों एवं सरंचनाओं को हटाने कार्रवाई शुरू

जबलपुर: माढ़ोताल तालाब की लगभग 280 करोड़ की भूमि शासन के नाम किये जाने के आदेश के बाद बुधवार को इस भूमि पर बने ऐसे पक्के निर्माणों को बुलडोजरों की सहायता से ध्वस्त करने की कार्यवाही जिला प्रशासन द्वारा प्रारम्भ की गई जो तालाब में पानी पहुंचने में बाधक बन गये हैं। कार्यवाही के दौरान मौके पर अपर कलेक्टर एवं एसडीएम आधारताल नम: शिवाय अरजरिया, तहसीलदार आधारताल राजेश सिंह मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि आधारताल तहसील के अंतर्गत माढ़ोताल तालाब की करीब 280 करोड़ रुपये मूल्य की 55.84 एकड़ भूमि को मध्यप्रदेश शासन के नाम दर्ज कर ली गई है। न्यायालय अनुविभागीय राजस्व अधिकारी आधारताल में प्रचलित इस प्रकरण में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व आधारताल नम:शिवाय अरजरिया ने सभी पक्षों की सुनवाई के बाद मौजा माढ़ोताल की इस भूमि के समस्त बटांकों को निरस्त कर दिया है तथा केवल एक खसरा नंबर 181 दर्ज कर खसरे के कालम नंबर तीन में मध्यप्रदेश शासन दर्ज किये जाने एवं खसरे के कालम नंबर 12 में माढ़ोताल तालाब एवं अहस्तांतरणीय की प्रविष्टि दर्ज करने का आदेश पारित किया है।
तालाब में पानी पहुंचने में बने बाधक
अपर कलेक्टर नम: शिवाय अरजरिया ने बताया कि कलेक्टर डॉ इलैयाराजा के निर्देश पर जिला प्रशासन द्वारा माढ़ोताल तालाब के सौंदर्यीकरण, गहरीकरण एवं समतलीकरण के शुरू किये जा रहे कार्य के तहत ऐसे सभी पक्के निर्माणों एवं सरंचनाओं को यहाँ से हटाया जायेगा जिनकी वजह से तालाब दो या अधिक हिस्सों में बंट गया है तथा जो तालाब में पानी के पहुँचने में अवरोध बन गये हैं। उन्होंने बताया कि ऐसे सभी अवरोधों को हटाने की कार्यवाही प्रारम्भ कर दी गई है। कार्यवाही के दौरान निकलने वाले मलबे को नगर निगम द्वारा अन्य उपयुक्त स्थान पर ले जाया जा रहा है।

नव भारत न्यूज

Next Post

सर चढ़कर बोल रही शराब,जिले में दो मर्डर

Thu Jun 2 , 2022
खंडवा: जिले में शराब का धंधा खुलकर चल रहा है। यहाँ ठेकों की नीलामी के बाद टीन शेडों में सड़कों पर शराब बिक रही है। मुख्य मार्गों पर दुकानें खुल गई हैं। जिले में दो हत्याएं एक ही दिन में हो गईं। दोनों के पीछे कारण, शराब ही नजर आ […]