निवेशकों का मध्यप्रदेश में खुले दिल से स्वागतः चौहान

मुख्यमंत्री की स्टार्टअप इन्वेस्टर्स से हुई टेबल कॉन्फ्रेंस

इंदौर:मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्टार्टअप कॉन्क्लेव में आज स्टार्टअप इन्वेस्टर से राउण्ड टेबल चर्चा की और कहा कि आपके लिए मध्यप्रदेश के द्वार सदैव खुले हुए हैं। हम खुले दिल और दिमाग से आपका स्वागत करते हैं. मध्यप्रदेश के युवाओं में एक अलग एनर्जी है। उनके आइडिया को आप एक नया प्लेटफार्म प्रदान करें।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हम मध्यप्रदेश में स्टार्टअप पॉलिसी लाँन्च कर रहे हैं। मध्यप्रदेश कृषि प्रधान प्रदेश है और हम अब फूड प्रोसेसिंग उद्योगों को तेजी से आगे बढ़ा रहे हैं। मध्यप्रदेश की विकास दर इस वर्ष 19.7 प्रतिशत रही है। भारत की जीडीपी में मध्यप्रदेश का योगदान 3.6 प्रतिशत रहा है। मध्यप्रदेश को हम देश का नम्बर वन राज्य बनाने के लिये काम कर रहे हैं और स्टार्टअप के लिये आप सबके सहयोग की आवश्यकता है। प्रदेश के युवाओं के स्टार्टअप में आज मदद करें, इन्वेस्ट करें, जिससे कि आपके उद्योग धंधों को नई ऊर्जा और नये विचार मिलेंगे. चर्चा के दौरान सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा, जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट, सांसद शंकर लालवानी, एमएसएमई विभाग के सचिव पी. नरहरि एवं डॉ. निशांत खरे उपस्थित रहे।
जापान का इनवेस्ट बढ़ाएंगे
मुख्यमंयत्री श्री चौहान से चर्चा के दौरान जापान के याशुकी मुराशी ने कहा कि मध्यप्रदेश में बहुत बेहतर माहौल दिख रहा है. नये-नये स्टार्टअप से जापान को भी फायदा होगा. इसके लिये हम जापानी टेक्नालॉजी के साथ यहां के नये आइडियाज को नई पहचान दिला सकते हैं. मध्यप्रदेश में जापान के इन्वेस्टमेंट को बढ़ाने के लिये भी हम प्रयास करेंगे.
स्टार्टअप राजधानी बना सकते हैं
इंदौर में पढ़े रणविजय लांबा और विक्रम उपाध्याय ने बताया कि हम लोग इंदौर में पढ़े हैं. तब से लेकर आज तक 25 वर्ष बाद इंदौर में बहुत बदलाव आ गया है. यह बदलाव की प्रवृत्ति इंदौर को एक अलग पहचान देती है. इंडस्ट्री और स्टार्टअप के गठजोड़ से स्वपोषित और स्वचलित व्यवस्था निर्मित होगी. इंदौर से पढ़कर निकले कई विद्यार्थी आज विदेशों में खरबपति हैं. इनको जोड़कर हम इंदौर को स्टार्टअप की राजधानी बना सकते हैं.

इन्वेस्टर सुनील गोयल ने बताया कि स्टार्टअप के लिये बेहतर माहौल बनाने से अच्छा निवेश आयेगा। इंदौर में स्टार्टअप के लिये बहुत संभावनाएं हैं। इसके लिये एक बेहतर माहौल बनता हुआ दिख रहा है। रूपेश व्यास मिराज ग्रुप के संचालक ने कहा कि हमारे अनुभव और युवाओं के आइडियाज से हम प्रदेश के लिये नई संभावनाएं देख रहे हैं. मुख्यमंत्री से चर्चा के दौरान पीयूष दोषी, अजय गुप्ता, विजय केडिया, विकास अग्रवाल, रूपेश व्यास, जीतू पंजाबी, राजेश पंडित, वी.टी. भारदवाज आदि ने भी अपने विचार रखें.

नव भारत न्यूज

Next Post

10 साल से फ रार ईनामी वारंटी हुआ गिरफ्तार

Sat May 14 , 2022
सिंगरौली :जियावन पुलिस ने 10 वर्षो से फरार एक्सीडेंट के इनामी वारंटी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है । पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।जियावन पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक 10 वर्षों से फ […]