एयर इंडिया ने कैम्पबेल विल्सन को सीईओ और एमडी नियुक्त किया

कोलकाता 12 मई (वार्ता) टाटा संस ने गुरुवार को कैम्पबेल विल्सन को एयर इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) और प्रबंध निदेशक (एमडी) नियुक्त करने की घोषणा की।
एयर इंडिया के निदेशक मंडल ने नियामकिय अनुमोदन के जुड़े विषयों को ध्यान में रखते हुए श्री विल्सन की नियुक्त की मंजूरी दी।
कंपनी ने बताया है कि कैम्पबेल विल्‍सन (50) को विमानन सेवा क्षेत्र में काम करने का करीब 26 वर्ष का अनुभव है। वह किफायती और संपूर्ण सुविधा देने वाली -दोनों तरह की एयरलाइनों में काम कर चुके हैं। वह वर्ष 2011 में सिंगापुर एयरलाइंस की किफाती दर की सेवाएं देने वाली एयरलाइन स्कूट के संस्‍थापक सीईओ बनाए गए थे और उस पर पर 2016 तक बने रहे ।
एयर इंडिया के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने विल्सन के नियुक्ति पर कहा, “एयर इंडिया में कैंपबेल का स्वागत करते हुए मुझे खुशी हो रही है। वह एक उद्योग के दिग्गज हैं जिन्होंने कई कार्यों में प्रमुख वैश्विक बाजारों में काम किया है। इसके अलावा, एयर इंडिया को एशिया में एयरलाइन ब्रांड बनाने के उनके अनुभव से लाभ होगा। मैं एयर इंडिया को एक विश्व स्तरीय एयरलाइन बनाने के लिए उनके साथ काम करने को उत्सुक हूँ।”
श्री विल्सन ने 1996 में सिंगापुर की एयरलाइन एसआईए के साथ प्रबंधन प्रशिक्षु के तौर पर न्यूजीलैंड में करियर शुरू किया था। वर्ष 2011 में स्कूट के संस्थापक सीईओ के रूप में सिंगापुर लौटने से पहले उन्होंने एसआईए के लिए कनाडा, हांगकांग और जापान में काम किया था। वह 2016 में फिर एसआईए में जुड़ गए और वरिष्ठ उपाध्यक्ष बिक्री और विपणन के रूप में कार्य किया। जहां उन्होंने अप्रैल 2020 में दूसरी बार स्कूट के सीईओ की जिम्मेदारी संभालने से पहले एसआईए में मूल्य निर्धारण, वितरण, ईकामर्स, मर्चेंडाइजिंग, ब्रांड और मार्केटिंग, वैश्विक बिक्री और एयरलाइन के विदेशी कार्यालयों का काम देखा।
श्री विल्सन ने न्यूजीलैंड में कैंटरबरी विश्वविद्यालय से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर ऑफ कॉमर्स (प्रथम श्रेणी ऑनर्स) उपाधि हासिल की है।
उन्होंने एक बयान में कहा, “प्रतिष्ठित एयर इंडिया का नेतृत्व करने और अत्यधिक सम्मानित टाटा समूह का हिस्सा बनने के लिए चुना जाना मेरे लिस सम्मान की बात है। एयर इंडिया दुनिया की सर्वश्रेष्ठ एयरलाइनों में से एक बनने के लिए यात्रा के शिखर पर है, जो एक विशिष्ट ग्राहक अनुभव के साथ विश्वस्तरीय उत्पादों और सेवाओं की पेशकश करती है, जो भारतीय आतिथ्य को दर्शाती है। मैं अपनी महत्वाकांक्षा को साकार करने के मिशन में एयर इंडिया और टाटा के के साथ जुड़ने के लिए उत्साहित हूँ।”
इससे पहले टाटा समूह ने टर्किश एयरलाइन पूर्व प्रमुख इलकर आयसी को एयर इंडिया का सीईओ बनाने का निर्णय किया था लेकिन श्री आयसी ने टाटा समूह के प्रस्ताव को स्वीकार नहीं किया।

नव भारत न्यूज

Next Post

राजद्रोह कानून

Fri May 13 , 2022
सुप्रीम कोर्ट ने एक याचिका की सुनवाई करते हुए राजद्रोह कानून पर रोक लगा दी है. कोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकारों को इस कानून की समीक्षा करने के लिए कहा है. सुप्रीम कोर्ट का फैसला सही प्रतीत होता है. इस कानून का दुरुपयोग होने लगा था. अंग्रेजों ने हजारों […]