यूरिया की पहली खेप 2600 टन पहुंची बरगवां प्वाइंट पर

खरीफ फसल की तैयारी अभी से शुरू,जनप्रतिनिधियों ने जतायी खुशी
सिंगरौली :  नेशनल फर्टिलाइजर लिमिटेड भारत सरकार का उपक्रम मध्य प्रदेश में सबसे बड़ी यूरिया निर्माता कंपनी के क्षेत्रीय कार्यालय सतना के अंतर्गत बरगवां रैक पॉइंट जिला सिंगरौली पर यूरिया की प्रथम रैक प्लेस हुई। यूरिया की मात्रा करीब 2600 टन है।
प्रथम रैक आगमन पर कंपनी के क्षेत्रीय प्रबंधक अविनाश सरोंजा एवं कृषि विभाग के अधिकारी लवकुश सिंह सहायक संचालक ने पूजन आदि करके एंव फीता काट कर रैक पॉइंट पर हथलन एवं परिवहन कार्य का शुभारंभ किया। कार्यक्रम में कंपनी के डीलर, उर्जान्चल संघ के पदाधिकारी एवं कृषकों ने रैक लगने के अवसर पर खुशी व्यक्त करते हुए कंपनी से निरन्तर रैक लगाने का आग्रह किया।

कंपनी के क्षेत्रीय प्रबंधक अविनाश सरोंजा द्वारा बरगवां रैक पर प्रथम रैक लगने पर कंपनी के अधिकृत परिवहनकर्ता मे.सिंगरौली ट्रेडर्स को हार्दिक बधाई देते हुए उपस्थित कृषि विभाग के अधिकारी एवं डीलर बंधु व कृषको को आगामी खरीफ एवं रबी सीजन में कंपनी के विभिन्न उत्पादों जैसे यूरिया, डीएपी आदि की निरन्तर सप्लाई का आश्वासन दिया तथा कंपनी के उच्च प्रबंधन एके त्यागी, आंचलिक प्रबंधक भोपाल एवं राजेन्द्र सिंह चौहान, राज्य प्रबंधक मध्य प्रदेश को रैक उपलब्ध कराने हेतु धन्यवाद दिया। बरगवां रैक पॉइंट से संपूर्ण सिंगरौली एंव सीधी जिले में खाद की सप्लाई की जाएगी। खाद का वितरण शासन के निर्देशानुसार 70 प्रतिशत मार्कफेड एवं 30 प्रतिशत प्राइवेट डीलर्स को उप्लब्ध कराया जाएगा।
सांसद,विधायक ने अन्नदाताओं को दी बधाई
कलेक्टर राजीव रंजन मीना के निर्देश के परिपालन में एवं उप संचालक कृषि आशीष पाण्डेय के लगातार प्रयासों के फलस्वरूप एनएफएल कम्पनी के यूरिया का बरगवॉ रैक प्वाइंट पर आगमन हुआ जिससे जिले को 2600 टन यूरिया प्राप्त होगी। जैसे ही यह जानकारी हुई की बरगवॉ रैक प्वाइंट पर यूरिया 2600 टन आई है किसानों ने अपनी खुशी जाहिर किया। वही सांसद रीती पाठक, विधायक सिंगरौली रामलल्लू बैस, देवसर विधायक सुभाष-रामचरित्र वर्मा, चितरंगी विधायक अमर सिंह ने किसानों को आगामी खरीफ सीजन की

नव भारत न्यूज

Next Post

डिग्री कॉलेज बैढऩ समस्याओं से है घिरा

Thu Apr 28 , 2022
महाविद्यालय का वाटर कूलर एवं डीजी जनरेटर बना शो-पीस, तीन साल से लैब सामग्री का टोटा,अपनी स्वयं की पीठ थपथपाने में जुटा है महाविद्यालय प्रबंधन सिंगरौली : जिला मुख्यालय में संचालित इकलौता ऐसा शासकीय अग्रणी महाविद्यालय है जहां अभी भी मूलभूत सुविधाओं से कोसो दूर है। कॉलेज के छात्रों को […]