59 हजार 866 नागरिकों ने लगवाया टीका

जिले के 191 केन्द्रों पर हुआ टीकाकरण कार्य
महाअभियान के प्रथम दिन शाम 5 बजे तक लक्ष्य से कम हुआ टीकाकरण
विदिशा नवभारत न्यूज.-कोविड 19 वैक्सीनेशन टीकाकरण महाअभियान के द्वितीय चरण के तहत प्रथम दिन बुधवार को जिले के 191 केन्द्रों पर शाम 5 बजे तक 59 हजार 866 नागरिकों का टीकाकरण कार्य किया गया.
महाअभियान के प्रथम दिवस बुधवार को जिले में 75 हजार 270 नागरिकों का टीकाकरण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था. इसके लिए 191 टीकाकरण केन्द्रों पर प्रात: 8 बजे से टीकाकरण कार्य शुरू हुआ. शाम 5 बजे तक जिले में 59 हजार 866 नागरिकों का टीकाकरण कार्य किया गया. इसके उपरांत भी टीकाकरण कार्य केन्द्रों पर चल रहा था. जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. डीके शर्मा ने बताया कि शाम 5 बजे तक विदिशा विकासखण्ड में 10 हजार 598, बासौदा में 12 हजार 423, कुरवाई में 6 हजार 345, सिरोंज में 7 हजार 216, लटेरी में 5 हजार 468, नटेरन में 9 हजार 980 तथा ग्यारसपुर में 7 हजार 836 नागरिकों का टीकाकरण कार्य किया जा चुका है.
स्वयं लगवायें दूसरों को भी लगवायें टीका
विदिशा जिला मुख्यालय के सिटी हास्पिटल टीकाकरण केन्द्र पर आयोजित शुभांरभ कार्यक्रम में विधायक शशांक भार्गव, नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष मुकेश टण्डन ने दीप प्रज्जवलित कर टीकाकरण अभियान का शुभांरभ किया. कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए विधायक शशांक भार्गव ने कहा कि मानव को सुरक्षा का कवच टीकाकरण से संभव है. स्वयं टीका लगवाएं और टीका से वंचितों को टीका लगवाने हेतु प्रेरित करें. पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मुकेश टण्डन ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के नागरिकों को कोरोना से बचाव के लिए जो विशेष अभियान टीकाकरण के माध्यम से क्रियान्वित किया जा रहा है. निश्चित ही इसका लाभ जिले के नागरिकों को भी मिल रहा है. कार्यक्रम को विदिशा एसडीएम गोपाल सिंह वर्मा, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. विनोद शर्मा ने भी सम्बोधित किया.
पठारी क्षेत्र में नागरिकों को घंटों करना पड़ा इंतजार
नगर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में चलाए जा रहे महा वैक्सीनेशन अभियान में शासन के निर्देशों के बाद भी कई वैक्सीनेशन सेंटरों पर लोगों को घंटों इंतजार करना पड़ा. ग्रामीण क्षेत्रों एवं नगर के नागरिक सुबह 6 बजे से वैक्सीनेशन सेंटरों पर एकत्रित हो गए थे. लेकिन टीकाकरण करने वाले कर्मचारी 9.30 बजे वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचे, जिससे नागरिकों को घंटों इंतजार करना पड़ा. ग्राम जमुनिया से वैक्सीनेशन कराने आए जसरात सिंह ने बताया कि हम सुबह 6 बजे से टीकाकरण केंद्र शासकीय बालक माध्यमिक विद्यालय में सुबह सबसे पहले नंबर पर लाइन में खड़े थे. रजिस्ट्रेशन वेरीफाई होने के बाद भी टीका लगवाने के लिए घंटों इंतजार करना पड़ा. क्योंकि टीकाकरण करने वाले कर्मचारी 9.30 बजे केंद्र पर पहुंचे, जिससे नागरिकों को घंटों इंतजार करना पड़ा.

नव भारत न्यूज

Next Post

एक सितंबर से प्रारंभ होगी इंदौर से ग्वालियर की उड़ान

Thu Aug 26 , 2021
नवभारत न्यूज भोपाल,-जल संसाधन मंत्री श्री तुलसी सिलावट ने बताया है कि इंदौर से ग्वालियर की बहु प्रतीक्षित उड़ान भी एक सितंबर से प्रारंभ होगी। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान और केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर में आयोजित कार्यक्रम से इस उड़ान सुविधा का शुभारंभ करेंगे। मंत्री […]