भूमाफियाओं और आदतन अपराधियों से 21 हजार एकड़ से अधिक भूमि हुयी मुक्त

भोपाल, 12 अप्रैल (वार्ता) मध्यप्रदेश में भूमाफियाओं, गुंडे-बदमाशों और आदतन अपराधियों के खिलाफ जारी सख्त कार्रवाई के बीच ऐसे लोगों से 02 वर्षों के दौरान 21 हजार 502 एकड़ सरकारी और निजी भूमि मुक्त करायी गयी है, जिसकी कीमत बाजार में 18,146 करोड़ रुपए आकी गयी है।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में आज यहां मंत्रिपरिषद की बैठक में प्रस्तुतिकरण के दौरान यह जानकारी दी गयी। इस दौरान बताया गया कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रारंभ किए गए विशेष अभियान के तहत राज्य में 01 अप्रैल 2020 से 31 मार्च 2022 के दौरान 02 वर्ष की अवधि में कुल 21,502 एकड़ सरकारी और निजी भूमियों को भूमाफियाओं, गुडे-बदमाशों और आदतन अपराधियों के अवैध अतिक्रमण और कब्जों से जिला और पुलिस प्रशासन द्वारा मुक्त कराया गया। इस अवैध अतिक्रमण-कब्जों की भूमियों का बाजार मूल्य 18,146 करोड़ रुपए आंका गया है।
राज्य के गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ राजेश राजौरा ने यहां बताया कि इस दौरान भूमाफियाओं, गुंडे बदमाशों और आदतन अपराधियों के 12640 अवैध निर्माण जैसे मकान, दुकान, गोदाम, मैरिज गार्डन और अवैध फैक्ट्री आदि नियमानुसार तोड़े या हटाए गए हैं। वहीं 188 भूमाफियाओं को राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) में निरुद्ध किया गया हैै और 498 भूमाफियाओं को जिलाबदर किया गया है।
इस बीच आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि ऐसे तत्वों के खिलाफ इसी तरह की सख्त कार्रवाई जारी रहेगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वयं कहा है कि महिलाओं से जुड़े अपराधों और गरीबों तथा कमजोर वर्ग को सताने से जुड़े अपराधाें में कानूनी कार्रवाई तो होगी ही, लेकिन ऐसे कार्यों में लिप्त लोगों की ‘कमर’ तोड़ दी जाएगी। इसका उद्देश्य अपराधियों के मन में पुलिस और प्रशासन का खौफ पैदा करने के साथ यह भी है कि इस तरह का अपराध करने के पहले कोई भी व्यक्ति कई बार सोचने को मजबूर होगा।

नव भारत न्यूज

Next Post

दिल्ली में चिलचिलाती धूप ने किया बेहाल, लू का प्रकोप जारी

Tue Apr 12 , 2022
नयी दिल्ली, 12 अप्रैल (वार्ता) दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में मंगलवार को भी भीषण गर्मी और लू का प्रकोप जारी रहा तथा अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है। मौसम विभाग ने बताया कि आज सुबह न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक 22.5 […]