एसबीआई म्यूचुअल फंड के नए एसआईपी में 39 प्रतिशत की वृद्धि

नयी दिल्ली  (वार्ता) संपदा प्रबंधन के आधार पर देश के सबसे बड़े फंड हाउस एसबीआई म्यूचुअल फंड ने चालू वित्त वर्ष में 01 जनवरी 2022 तक 30 लाख से अधिक नए एसआईपी पंजीकृत किए हैं, जिसमें वित्त वर्ष 20-21 के मुकाबले 39 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि दर्ज की गई है।

चालू वित्त वर्ष में फंड हाउस को औसतन मासिक 1,800 करोड़ रुपये का एसआईपी हासिल हुआ, जिसमें औसत एसआईपी का आकार लगभग 2,500 रुपये का था।

कंपनी ने यहां जारी बयान में कहा कि नए एसआईपी में मजबूत वृद्धि का श्रेय आईएफए, राष्ट्रीय वितरकों और एसबीआई शाखाओं के मजबूत वितरण नेटवर्क के माध्यम की जाने वाली पेशकशों की उपलब्धता को जाता है।
एसबीआई म्यूचुअल फंड ने कई टियर 2 स्थानों में भी नई शाखाएं खोलने के साथ देश में अपनी मौजूदगी को और मजबूत किया है।

पिछले दो वर्षों में महामारी के दौरान देश भर के निवेशकों से फंड हाउस ने एसआईपी के माध्यम से निवेश प्राप्त किया और सभी क्षेत्रों में लगभग समान वृद्धि दर्ज की गई, जिसमें चालू वित्त वर्ष में उत्तर (25 प्रतिशत), पूर्व (22 प्रतिशत), पश्चिम (25 प्रतिशत) और दक्षिण में (28 प्रतिशत) वृद्धि शामिल है।

कंपनी ने कहा कि चालू वित्त वर्ष में भी एसबीआई म्यूचुअल फंड ने अन्य प्रमुख उपलब्धियों को हासिल किया, जिसमें छह लाख करोड़ रुपये के एएयूएम पार करने वाले देश का पहला फंड हाउस बनने की उपलब्धि भी शामिल है।
लगातार निवेशक जागरूकता पहल और कुछ बेहद उपयुक्त बाजार पेशकशों के लॉन्च ने मौजूदा और नए दोनों निवेशकों के साथ ब्रांड की हिस्सेदारी को बढ़ाने में मदद की।

इस फंड हाउस ने एसबीआई बैलेंस्ड एडवांटेज फंड (14,691 करोड़ रुपये की कमाई) के साथ खुली अवधि के एक्टिव इक्विटी कैटेगरी में सबसे ज्यादा फंड को प्रबंधित किया।
इसके बाद (8,095 करोड़ रुपये की कमाई) के साथ मल्टीकैप कैटेगरी में एसबीआई मल्टीकैप फंड का स्थान रहा।

नव भारत न्यूज

Next Post

मारियुपोल पूरी तरह से नष्ट हो गया: यूक्रेन

Mon Mar 28 , 2022
कीव, 28 मार्च (वार्ता) यूक्रेन के विदेश मंत्रालय ने सोमवार को कहा कि रूस की सेना ने मारियुपोल शहर को पूरी तरह नष्ट कर दिया है। मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा, “जब मारियुपोल की घेराबंदी बमबारी की जा रही, लोग जीवन के लड़ रहे हैं। शहर में मानवीय स्थिति भयावह […]