महिला की 2 बार मौत : डॉक्टरों ने जिंदा महिला को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा, इसके बाद 18 घँटे और जिंदा रही महिला

ग्वालियर:  जयारोग्य अस्पताल के डॉक्टर्स की लापरवाही से जिंदा महिला को मृत घोषित कर शव को डेड हाउस पहुंचा दिया गया। जब परिजन महिला को स्ट्रेचर पर लेकर डेड हाउस पहुंचे और उसे मृत समझकर फ्रीजर में रखवा रहे थे, तभी पति का हाथ उसके सीने पर पड़ा। उसे पत्नी की धड़कन चलती मिली। डॉक्टर ने बिना ईसीजी किए ही महिला को मृत घोषित कर दिया था।परिवार के हंगामे के बाद महिला को भर्ती कर फिर से इलाज शुरू किया गया। इसके बाद महिला 18 घंटे और जिंदा रही। शनिवार सुबह 10.30 बजे महिला की मौत हो गई। इस बार डॉक्टर ने दो बार ईसीजी की और 3-3 बार पल्स चेक करने के बाद ही शव को डेड हाउस के लिए भेजा।

महोबा के रहने वाले निरपत सिंह राजपूत ने बताया कि 2 दिन पहले पत्नी जामवती बाइक से गिर पड़ी थी। उसे छतरपुर के हरपालपुर के अस्पताल ले गए। वहां से झांसी के लिए रेफर कर दिया गया। झांसी में प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया। फिर यहां से गुरुवार दोपहर ग्वालियर के जयारोग्य अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया। यहां डॉक्टरों ने शुक्रवार शाम 4.30 बजे महिला को मृत बता दिया। एनेस्थिसिया के डॉ इमरान और ट्रॉमा में उस समय इंचार्ज डॉ किशन थे।

महिला के पति निरपत सिंह का कहना है कि शुक्रवार दोपहर 3 बजे से ही डॉक्टरों ने इलाज बंद कर दिया था। 4.30 बजे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद जब सांस चलते देखी तो वहां ले गए। फिर उन्होंने इलाज शुरू कर दिया। इसके 18 घंटे बाद उसने फिर दम तोड़ा। परिजनों का कहना है कि मृत मानकर इलाज बंद कर देना गंभीर लापरवाही है। यदि इलाज मिलता रहता तो शायद वो जिंदा होती। निरपत ने बताया कि उसके दो बच्चे हैं, एक की उम्र 8 साल है और दूसरे की 15 साल। पत्नी की मौत के बाद उनका क्या होगा।

जांच के लिए बनी टीम
जेएएच अधीक्षक डॉ आरकेएस धाकड़ का कहना है कि यह गंभीर लापरवाही है। मौत की घोषणा करने से पहले वहां मौजूद डॉक्टरों को ईसीजी करना थी, लेकिन यह नहीं किया गया। पूरे मामले की जांच के लिए टीम बना दी है। जल्द जांच कर मामले में लापरवाही बरतने वाले डॉक्टरों के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा। अभी डॉक्टर को हटा दिया गया है।

नव भारत न्यूज

Next Post

दो बहनों को बंधक बनाकर रेप की कोशिश, बाल भी काटे

Sun Feb 27 , 2022
अधारताल थाने में एफआईआर दर्ज, आरोपी गिरफ्तार जबलपुर:  अधारताल थाना क्षेत्र में एक सिरफिरे ने दो बहनों को बंधकर बनाकर उनके साथ छेड़छाड़ करते हुए रेप की कोशिश की। इतना ही नहीं एक के बाल भी काट डाले।  पुलिस ने रिपोर्ट पर विभिन्न धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज कर आरोपी […]