बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन में रेलवे के 90 महिला व पुरुष ‘पहलवान’ ताल ठोकेंगे

उज्जैन, 19 अगस्त (वार्ता) उज्जैन के क्षीरसागर स्थित अवंतिका कुश्ती केंद्र में गुरूवार से रेलवे के कुश्ती खिलाड़ियों का राष्ट्रीय शिविर आयोजित होगा, 19 अगस्त से 17 सितंबर 2021 तक अपने 72 चुने हुए पहलवानों का प्रशिक्षण शिविर आज से उज्जैन के अवंतिका कुश्ती केंद्र पर स्थापित करने जा रहा है। इसके लिए रेलवे खेल संवर्द्धन बोर्ड (आरएसपीबी) के सचिव प्रेमचंद लोचब और प्रवीण कुमार खेल अधिकारी (आरएसपीबी) ने प्रशिक्षण शिविर हेतु सभी मंजूरी दे दी है | प्रशिक्षण शिविर में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर की महिला और पुरुष पहलवानों सहित कई अर्जुन पुरस्कार विजेता और विश्वामित्र पुरस्कार विजेता प्रशिक्षक भी भाग लेंगे | उज्जैन शहर के महिला और पुरुष खिलाड़ियों को इन अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों और कोचों के साथ अभ्यास का लाभ मिलेगा। इसके साथ ही रेलवे के वरिष्ठ कोच और अधिकारियों को भी शहर की प्रतिभा को परखने का मौका मिलेगा. इसका दूरगामी लाभ शहर के कुश्ती खिलाड़ियों को मिलेगा।
अवंतिका रेसलिंग सेंटर के गणेश बागड़ी पहलवान ने बताया कि सांसद की सहमति के साथ रेलवे के खेल विभाग को उज्जैन में नेशनल शिविर लगाने के लिए प्रस्ताव भेजा था। साल में एक बार आयोजित किया जाने वाला रेलवे का नेशनल कैंप दूसरी बार उज्जैन में लगने की सैद्धांतिक मंजूरी मिल गई है और आज से शिविर शुरू किया जा रहा है | इस शिविर की खास विशेषता यह भी है कि पहली बार भारतीय रेलवे की विख्यात महिला पहलवान भी यहां प्रशिक्षण करेगी जिससे उज्जैन की महिला खिलाड़ियो को भी लाभ मिलेगा | खिलाड़ियों और आफिशियल के ठहरने के लिए व्यवस्था करने पर भी चर्चा हो गई है। एक दो दिन में पहलवानों का आना शुरू हो जाएगा। गणेश बागड़ी पहलवान का कहना है कि उज्जैन में रेसलिंग खिलाड़ियों के लिए कैंप आयोजित होने से यहां के खिलाड़ियों को लाभ होगा। एक तो खिलाड़ियों को वरिष्ठ कोच के माध्यम से इंटरनेशनल स्तर की कई नई तकनीक सीखने को मिलेगी दूसरी कैंप में एक महीने में कई वरिष्ठ खिलाड़ी कैंप का अवलोकन करने आएंगे। वरिष्ठ खिलाड़ियों के कैंप में आने का लक्ष्य यही होता है कि वे प्रतिभाओं को चयनित कर रेलवे में नौकरी के लिए प्रोत्साहित और मदद करते हैं। खिलाड़ियों को रेलवे में नौकरी के लिए रास्ते भी खुलेंगे। शहर में कुश्ती के तकरीबन 2 हजार खिलाड़ी हैं इसमें से प्रोफेशनल खिलाड़ी लगभग 300-400 हैं। रेलवे के कैंप में नेशनल या स्टेट चैंपियनशिप के मेडलिस्ट खिलाड़ियों को प्राथमिकता दी जाएगी।

नव भारत न्यूज

Next Post

एन. के. सिंह इंस्टीच्यूट ऑफ इकोनॉमिक ग्रोथ सोसाइटी के अध्यक्ष निर्वाचित

Thu Aug 19 , 2021
नयी दिल्ली 19 अगस्त (वार्ता) पंद्रहवें वित्त आयोग के अध्यक्ष रहे डॉ एन. के. सिंह को इंस्टीच्यूट ऑफ इकोनॉमिक ग्रोथ (आईईजी) सोसाइटी का अध्यक्ष चुना गया है। इस पद पर उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह का स्थान लिया है। आईईजी सोसाइटी की 16 अगस्त को हुई आमसभा में डाॅ […]