केन्द्रीय अध्ययन दल ने चाँदपुर पहुँचकर देखी जमीनी हकीकत

अति वर्षा से शासकीय परिसम्पित्तियों के साथ-साथ निजी सम्पत्तियों को हुए नुकसान का भी किया अवलोकन

ग्वालियर:  ग्वालियर-चंबल संभाग में अति वर्षा से प्रभावित परिवारों को केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार के माध्यम से हर संभव सहायता उपलब्ध कराई जा रही है। वर्षा से हुए नुकसान के आंकलन के लिये केन्द्र सरकार का अध्ययन दल ग्वालियर-चंबल संभाग के भ्रमण पर है। केन्द्रीय अध्ययन दल ने ग्वालियर एवं दतिया जिले के बाढ़ प्रभावित ग्रामों का भ्रमण भी किया। केन्द्रीय दल के कुछ सदस्य मुरैना जिले के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के लिये भी पहुँचे। भारत सरकार के गृह विभाग के ज्वॉइंट सेक्रेटरी श्री सुनील कुमार वर्णवाल के नेतृत्व में तीन सदस्यीय दल ने ग्वालियर जिले के चाँदपुर पहुँचकर जमीनी हकीकत देखी और बाढ़ प्रभावित परिवारों से चर्चा की। केन्द्रीय अध्ययन दल में श्री अभय कुमार व श्री डी के शर्मा भी शामिल थे। उन्होंने गाँव में अति वर्षा से हुए नुकसान का अवलोकन भी किया। निरीक्षण के दौरान उनके साथ भू-अभिलेख एवं बंदोबस्त के आयुक्त श्री ज्ञानेश्वर पाटिल, संभागीय आयुक्त श्री आशीष सक्सेना, कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, सीईओ जिला पंचायत श्री किशोर कान्याल, अपर कलेक्टर श्री आशीष तिवारी, एसडीएम डबरा श्री प्रदीप कुमार सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

केन्द्रीय अध्ययन दल ने डबरा नगरीय क्षेत्र के ग्राम चाँदपुर पहुँचकर अति वर्षा के कारण आंगनबाड़ी केन्द्र, स्वास्थ्य केन्द्र और स्कूल भवन को हुई क्षति का अवलोकन किया। उन्होंने अति वर्षा के कारण खेती किसानी को हुए नुकसान का अवलोकन भी किया और किसानों से चर्चा भी की। अध्ययन दल ने वर्षा के कारण जिन लोगों के मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं उनसे भी मुलाकात कर विस्तार से चर्चा की। चाँदपुर गाँव में अति वर्षा के कारण कच्चे मकान पूरी तरह से ध्वस्त हो गए हैं। इसके साथ ही खेती किसानी को भी नुकसान हुआ है। किसानों ने बताया कि उनकी धान की फसल पूरी तरह से खराब हो गई है। ग्रामीणों ने बरसात के कारण गाँव के मकानों को हुए भारी नुकसान के संबंध में भी विस्तार से बताया।
संभागीय आयुक्त श्री आशीष सक्सेना ने अध्ययन दल को ग्वालियर जिले के कुल प्रभावित 46 गाँवों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने ग्वालियर के साथ-साथ ग्वालियर एवं चंबल संभाग के जिलों में अति वर्षा के कारण हुए नुकसान के बारे में भी बताया।

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने अध्ययन दल को बताया कि ग्वालियर जिले में कुल 46 गाँवों में अति वर्षा के कारण नुकसान पहुँचा है। प्रारंभिक सर्वेक्षण के आधार पर लगभग 2 हजार 500 घरों को क्षति हुई है। इसके साथ ही 66 पशु हानि भी हुई है। शासकीय परिसम्पत्तियों में भी भारी नुकसान हुआ है। जिले की लगभग 65 किलोमीटर सड़क एवं 25 पुल-पुलिया भी अति वर्षा के कारण खराब हुई हैं। केन्द्रीय अध्ययन दल के चाँदपुर भ्रमण के दौरान भाजपा के ग्रामीण जिला अध्यक्ष श्री कौशल शर्मा ने भी केन्द्रीय दल को चाँदपुर में अति वर्षा से हुए नुकसान के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अति वर्षा के कारण शासकीय परिसम्पत्तियों को नुकसान होने के साथ-साथ कई ग्रामीणों के आवास पूरी तरह से ध्वस्त हुए हैं। इसके साथ ही खेती किसानी को भी नुकसान हुआ है।

नव भारत न्यूज

Next Post

निगम कर्मचारियों की कामबंद हड़ताल, मनाने पहुँचे आला अधिकारी

Wed Aug 18 , 2021
ग्वालियर:  नगर निगम के कर्मचारियों द्वारा आज से कामबंद कर हड़ताल से शहर की सफाई व्यवस्था के साथ साथ जनता के कई कार्य प्रभावित हुए। हड़ताल को खत्म करने की अभिलाषा लेकर जिले के आला अधिकारी निगम कर्मचारियों को मनाने पहुँचे। जयति सिंह सीईओ स्मार्ट सिटी, आशीष तिवारी एडीएम सह […]