मकान बनाने नहीं, गरीबों की जिंदगी बदलने का अभियान: शिवराज

भोपाल, 28 जनवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज के इस कार्यक्रम को अद्भुत बताते हुए कहा कि यह अभियान मकान बनाने की नहीं, गरीबों की जिंदगी बदलने का अभियान है।

श्री चौहान ने यहां कुशाभाऊ ठाकरे इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में आयोजित इस कार्यक्रम में सिंगल क्लिक के माध्यम से प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अंतर्गत 3.50 लाख नवीन आवासों की स्वीकृति एवं हितग्राहियों को आवास निर्माण के लिए 875 करोड़ रुपए की प्रथम किश्त का वितरण किया। मुख्यमंत्री ने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रदेश की जनता की ओर से धन्यवाद ज्ञापित किया और कहा कि उन्होंने गरीबों को पक्की छत उपलब्ध कराने प्रधानमंत्री आवास जैसी योजना बनायी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह अभियान केवल मकान बनाने का अभियान नहीं है, बल्कि यह गरीबों की जिंदगी बदलने का अभियान है। गरीबों को भी बेहतर जिंदगी जीने और मुस्कुराने का अधिकार है। उन्होंने कहा कि जब तक गरीबों की जिंदगी नहीं बदलेगी तब तक वे चैन से नहीं बैठेंगे। उन्होंने कहा कि जो सबसे गरीब है, जो सबसे नीचे हैं उनके लिए यह सरकार सबसे पहले है। मकान बनने तक इन भाइयों-बहनों के साथ हमें खड़ा रहना है। ताकि निश्चित समय सीमा में इनका मकान बन जाए।

श्री चौहान ने कहा कि यह अद्भुत कार्यक्रम है। गरीबों के कल्याण का आज मेला लगा है। साढ़े तीन लाख गरीब भाई- बहनों के खातों में पीएमएवायजी के तहत 875 करोड रुपए डाले गए हैं। उन्होंने धरती को हरा भरा और समृद्ध बनाने की अपील करते हुए कहा कि पेड़ हैं तो धरती पर जिंदगी है। पेड़ नहीं रहेंगे तो धरती पर जिंदगी भी नहीं रहेगी, इसलिए पेड़ अवश्य लगाएं और धरा को हरा-भरा और समृद्ध बनाने में अपना योगदान दें। उन्होंने कहा कि हम सभी अपने गांव, कस्बे, शहर का साल में एक दिन वैसे ही जन्मदिन मनाएं, जैसे हम अपना जन्मदिन मनाते हैं। इस दिन हम अपनी जन्मभूमि के विकास की रूपरेखा भी तय करें। मेरे गृह ग्राम जैत का जन्मदिन हम नर्मदा जयंती पर मनाएंगे।

मुख्यमंत्री ने अपील की है कि आप एक आंगनबाड़ी अवश्य गोद लें। जो व्यक्ति आर्थिक रूप से सक्षम हैं, वह आंगनबाड़ी गोद लेकर बच्चों के पोषण में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं। उन्होंने कहा कि वह भी दो आंगनबाड़ी को गोद लिया है। उन्होंने कहा कि मैंने पहले तय किया था कि एक लाख स्वरोजगार के अवसर हम सृजित करेंगे, लेकिन अब इस लक्ष्य को बढ़ाकर 2 लाख कर दिया है। बैंकों से हम युवाओं को ऋण दिलाकर उनके उद्यमी बनने का सपना साकार करेंगे।

इससे पहले श्री चौहान ने प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अंतर्गत आवासों की स्वीकृति एवं हितग्राहियों को आवास निर्माण के लिए प्रथम किश्त के वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ द्वीप प्रज्ज्वलन कर किया। कार्यक्रम में पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया तथा जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट भी उपस्थित रहे।

नव भारत न्यूज

Next Post

शेयर बाजार में मामूली गिरावट

Fri Jan 28 , 2022
मुंबई 28 जनवरी (वार्ता) वैश्विक बाजार के नकारात्मक रुख के दबाव में स्थानीय स्तर पर हुई बिकवाली से आज शेयर बाजार मामूली गिरावट के साथ बंद हुआ। बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 76.71 अंक उतरकर 57200.23 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 8.20 अंक फिसलकर […]