देवरान-बांसा के बाद खमरिया मौजीलाल पहुंचा तेंदुआ, वन विभाग और पन्ना टाइगर रिजर्व टीम पकड़ने में जुटी

तेंदुआ आधा दर्जन लोगों को कर चुका घायल
विनय असाटी

दमोह:  गणतंत्र दिवस को दोपहर 12.45 बजे एक तेंदुआ की लोकेशन मिली थी, इसके बाद देवरान गांव में खेतों पर काम कर रहे एक-एक करके 5 लोगों पर हमला कर दिया था. हमला करने के बाद करीब 24 घंटे तक गायब रहा तेंदुआ गुरुवार की शाम को बिजौरा खमरिया में एक युवक पर हमला करने के बाद नजर आया. जिसकी खबर लिखे जाने तक खमरिया मौजीलाल के खेतों में ड्रोन कैमरे से लोकेशन मिल रही है.बुधवार को तेंदुआ ने देवरान निवासी सुरेंद्र सिंह परिवार पिता देवेंद्र (35), अरविंद परिहार पिता मदन (26), राघवेंद्र पटेल धर्मदास (30), अनीश रैकवार पिता पूरन (22), नंदलाल आदिवासी पिता टुंडे (40) शामिल थे, इनको मौके पर पहुंची सागर नाका चौकी प्रभारी श्रीमति गरिमा मिश्रा सहित पुलिस ने 108 की सहायता से जिला अस्पताल में भर्ती कराया था. जिनमें से सुरेंद्र व नंदलाल को गंभीर चोटें आई थी, जिनका जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है. गुरुवार को शाम 4 बजे अभाना-तेजगढ के बीच खमरिया मौजीलाल निवासी युवा नीलेश,महेश लोधी, खिल्लू उर्फ खिलान व हल्ले घूम रहे थे, तभी पर हमला कर दिया था,उक्त युवाओं ने जैसे-तैसे पत्थर मारकर तेंदुआ से अपनी जान बचाई और भागे.

जिसमें महेश लोधी (35) वर्ष तेंदुए की चपेट में आने से पीठ व अन्य जगह चोटे आई हैं. मौके पर हंड्रेड डायल पहुंची और हंड्रेड डायल पायलट विजय व आरक्षक कुलदीप सोनी द्वारा तत्काल जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया. गौरतलब है कि देवरान गांव में लोगों पर हमला करने के बाद शाम तक ड्रोन कैमरा चलाने वाले टीकाराम राय के माध्यम से उसकी लोकेलशन ली जाती रही, जो खेतों में दिखाई दी, रात में आखिरी लोकेशन बांसातारेखड़ा पेट्रोल पंप के पास दिखाई दी. गुरुवार की सुबह रीजनल रेस्क्यू स्क्वायड पन्ना टाइगर रिजर्व पन्ना की टीम पहुंची, तो ड्रोन की मदद से करीब 20 किमी का दायरा सर्च किया गया, लेकिन कोई खबर नहीं मिली. इधर 40 किमी दूर खमरिया बिजौरा से तेंदुआ की लोकेशन व हमला करने की जानकारी मिलने के बाद पन्ना टाइगर रिजर्व, वन विभाग व पुलिस की टीम मौके पर पहुंची है. यहां भी ड्रोन की मदद से तेंदुआ की लोकेशन ट्रेस की गई. जिसमें खमरिया मौजीलाल में पेड़ पर नजर आया, इसके कुछ देर बाद खमरिया मौजीलाल में खेतों तेंदुआ मिला है. वन विभाग व पन्ना टाइगर रिजर्व की टीम लगातार तेंदुआ को सर्च कर रही है, लेकिन तेंदुआ तेज रफ्तार से हमला करने के बाद अपनी लोकेशन बदल रहा है.

कहीं आदमखोर न हो जाए
तेंदुआ ने दो दिन के अंदर 6 लोगों पर हमला किया है, जिससे आशंका हो रही है कि तेंदुआ के मुंह इंसानी खून लग चुका है, जिससे उसके आदमखोर होने का अंदेशा बन गया है. पिछले 24 घंटे में इस तेंदुआ द्वारा किसी भी मवेशी पर हमला नहीं किया है. जिससे इसके आदमखोर होने की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता है, हालांकि वन विभाग की टीम व पुलिस के साथ पन्ना टाइगर रिजर्व की टीम मोर्चा संभाले है और लोगों को अकेले निकलने पर अलर्ट कर रही है.

पन्ना टाइगर रिजर्व टीम भी पकड़ने में जुटी है
रीजनल रेस्क्यू स्क्वायड पन्ना टाइगर रिजर्व पन्ना टीम के वरिष्ठ वन्य प्राणी चिकित्सक डॉक्टर संजीव गुप्ता, उदय मणि सिंह परिहार,नवीन शर्मा, तपसील, धर्मेंद्र रैकवार, अर्जुन पाल, बृजेश खरे व परसोत्तम सहित पूरी टीम पूरी तैयारी के साथ हाथों में पटाखे लेकर फोड़ते हुए नजर आए और तेंदुए की सर्चिंग जारी है. वरिष्ठ वन्य प्राणी चिकित्सक डॉक्टर संजीव गुप्ता का कहना है कि विगत देर शाम में अंधेरे के कारण रेस्क्यू करना मुश्किल रहा, लेकिन 1-2 पिंजरे खेतों में बैठे तेंदुए के पास रखे गए हैं. उसमें छोटे-छोटे जानवर भी रखे है, आज शुक्रवार सुबह फिर जल्द ही सर्चिंग करेंगे और अगर तेंदुआ आसपास रहा तो आगे की कार्रवाई की जाएगी.
टीम पूरी तैयारी के साथ अलर्ट
गणतंत्र दिवस के दिन से लगातार कलेक्टर एस. कृष्ण चैतन्य और दमोह पुलिस अधीक्षक डीआर तेनीवार के निर्देश पर वन विभाग पुलिस की टीमें मौजूद है. मौके पर वन मंडल अधिकारी महेंद्र सिंह उईके भी देवरान गांव पहुंचे थे, उन्होंने भी अधिकारियों-कर्मचारियों को दिशा निर्देश दिए थे. वन मंडल अधिकारी धीरेंद्र प्रताप सिंह, सीएसपी अभिषेक तिवारी, दमोह देहात थाना प्रभारी विजय सिंह राजपूत, सिंग्रामपुर रेंजर आश्रय उपाध्याय, चौकी प्रभारी सागर नाका गरिमा मिश्रा, वन विभाग उप रेंजर प्रेम लाल अहिरवार, देवेंद्र शुक्ला पथरिया, अशोक तिवारी,डिप्टी एमटी खान, लक्ष्यू, दिनेश,प्रमोद, महबूब, अजय, वीरेंद्र,मनोज, राजेंद्र, राजेंद्र अग्रवाल, राकेश सरवरिया, देव मुनीस,मयंक, हरिशंकर,वरुण, अमन, पुलिस में एएसआई केएल अठया, प्रेमदास बैरागी, भोला, 100 डायल कैलाश जाटव, सहित पुलिस फोर्स वन विभाग का और भी अमला और एस एफ के जवान पूरी तैयारियों के साथ देवरान गांव में मौजूद रहे.

वहीं जैसे ही तेजगढ़ खमरिया मोजीलाल में तेंदुए की सूचना मिली, तो मौके पर तेंदूखेड़ा एसडीओ रेखा पटेल, तेजगढ़ रेंजर आईसी मिश्रा, थाना प्रभारी नोहटा विकास चौहान, प्रधान आरक्षक धर्मेंद्र दुबे,आरक्षक शुभम,राजकुमार व 100 डायल मनीष अठया, नेक नारायण हरि शंकर,अनवर खान, प्रमोद रावत, स्थाई कर्मी प्रवीण, अफजल,महेश हल्ले और भी उड़नदस्ता मौजूद रहा लगातार रेंजर तेजगढ़ आईसी मिश्रा ग्रामीण ग्रामीण क्षेत्रों में एलाउंसमेंट करते हुए नजर आए कि कोई भी घर से बाहर ना निकले आसपास तेंदुआ है, तेंदुए को पकड़ने में जुटे हैं साथ ही नाइट गस्त भी की गई.क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि व ग्रामीणों का सहयोग जारीजिला पंचायत सदस्य राघवेंद्र सिंह ऋषि भैया, जनपद सदस्य सचिन मोदी, नीलेश सिंह, मुकेश सिंह, कमलेश सिंह सरपंच प्रतिनिधि पुष्पेंद्र सिंह, राकेश सिंह वकील साहब गोविंद सिंह एवं ग्राम के अन्य जागरूक लोग भी वहां पर रहे.

सर्च ऑपरेशन जारी है
उप वन मंडल अधिकारी धीरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा तेंदुआ की सूचना मिलने पर बांसा में चेक किया गया, वहां तेंदुआ नहीं मिला, अब सूचना मिली है कि खमरिया में तेंदुआ है, सर्च ऑपरेशन जारी है.

चुस्त-दुरुस्त व्यवस्था जमाए हुए हैं
जिला पंचायत सदस्य राघवेंद्र सिंह ऋषि भैया ने कहा आज शाम को 3:00 बजे गांव में महेश, खिल्लु और नीलेश तालाब घूमने आए थे, इनको दिखा की कोई जानवर है. उन्होंने उसे लड़इयां शियार समझ कर उसके पास गये उसके ऊपर पत्थर फेंका तो उस ने जानलेवा हमला किया है. जिससे महेश उसकी चपेट में आ गया, नीलेश महेश को बचाने का प्रयास किया. तो यह नीलेश के ऊपर हमला कर दिया. बाद में पता चला कि यह एक गुलबाग है तभी से पुलिस विभाग,वन विभाग अमला चुस्त दुरुस्त व्यवस्था जमाए हुए हैं. विभाग द्वारा निरंतर अलाउंस मेंट किया जा रहा है. आमजन इस जगह से दूर रहे और ड्रोन कैमरा से अभी भी गुलबाद को देखा जा रहा है.

नव भारत न्यूज

Next Post

पेट्रोल और डीजल में 85 वें दिन भी टिकाव

Fri Jan 28 , 2022
नयी दिल्ली 28 जनवरी (वार्ता) अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों के 90 डॉलर प्रति बैरल की ओर बढ़ने के बावजूद घरेलू स्तर पर आज लगातार 85 वें दिन भी पेट्रोल और डीजल के दाम में टिकाव बना रहा। केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में […]