‘आतंकवादियों के पनागार, मानवाधिकारों की उल्लंघन करने वाली सरकार का समर्थन नहीं करेंगे’

वाशिंगटन 17 अगस्त (वार्ता) अमेरिका ने कहा है कि यदि अफगानिस्तान की नयी तालिबान सरकार आतंकवादियों का पनाहगार बनती है और वहां लोगों के बुनियादी अधिकारों का हनन करती है, तो वह उसका समर्थन नहीं करेगा।
अमेरिका के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस ने सोमवार को संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा, “यदि अफगानिस्तान की नयी सरकार अपने देश के निवासियों के मूल अधिकारों की रक्षा करती है। आतंकवादियों को पनाह नहीं देती है और अपनी आधी आबादी यानी महिलाओं तथा लड़कियों के बुनियादी मौलिक अधिकारों सहित वहां के नागरिकों के बुनियादी अधिकारों की रक्षा करती है, तो हम उसके साथ काम कर पाएंगे।” उन्होंने कहा, “यदि वहां की सरकार ऐसा नहीं करती है, तो हम उसका समर्थन नहीं करेंगे।”

नव भारत न्यूज

Next Post

महाराज के गढ़ में राजा लगा रहे सेंध

Tue Aug 17 , 2021
 बाढ़  बाढ़ पीड़ितों का दर्द जानने चार दिन तक चंबल में डेरा, सिंधिया खेमा ने बताया सियासी एजेंडा   हरीश दुबे ग्वालियर:  जब दिग्विजयसिंह प्रदेश के मुख्यमंत्री थे, इस दस साल के दरम्यान उन्होंने ग्वालियर-चंबल की कांग्रेस राजनीति में सिंधिया परिवार के प्रभुत्व को देखते हुए यहां की सियासत में […]