ग्वालियर में कोरोना पीक की तरफ, आज 640 नए केस, एक मौत

ग्वालियर:  ग्वालियर में कोरोना विकराल रूप लेकर डरा रहा है, विशेषज्ञों की मानें तो ग्वालियर में कोविड की तीसरी लहर पीक की तरफ अग्रसित है। आज बुधवार को 3,958 लोगों की जांच में 640 कोरोना मरीज मिले हैं। अब ग्वालियर में एक्टिव कोविड संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 4224 हो गया है। जबकि 166 जगह एक्टिव माइक्रो कंटेन्मेंट जोन बनाए गए हैं।कोरोना से ग्वालियर में आज एक और मौत हुई है। दीनदयाल नगर निवासी 80 साल के बुजुर्ग की मौत आज हुई। हालांकि उन्हें कोरोना के साथ अस्थमा व हाइपरटेंशन की भी शिकायत थी। वे 18 जनवरी को निजी अस्पताल में भर्ती हुए थे और आज 19 जनवरी को उपचार के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया।
हर एक घंटे 19 हुए ठीक , राहत भरी खबर
मंगलवार को संक्रमित का आंकड़ा 700 पार गया है पर दूसरी ओर राहत की बात यह है कि रविवार को 463 संक्रमित ठीक हुए हैं और होम आइसोलेशन से डिस्चार्ज भी हुए हैं। मतलब हर घंटे 19 संक्रमित ठीक हुए और डिस्चार्ज हुए हैं। यह अपने-आप में बहुत बड़ा आंकड़ा है। इतनी संख्या में संक्रमितों के ठीक होने से राहत रही है। इससे साफ है कि संक्रमण इस समय जानलेवा नहीं है। बस सावधानी बरतने की जरुरत है।
4 हजार के ऊपर एक्टिव केस
नए संक्रमित आने के बाद जिले में एक्टिव केस की संख्या बढ़कर चार हजार के पार पहुुंच गई है। मंगलवार को कुल एक्टिव केस 4176 रहे हैं। राहत की बात यह है कि अस्पतालों में सिर्फ 45 लोग ही भर्ती हैं। चार दिन में एक्टिव केस 3 हजार से बढ़कर चार हजार पर पहुंच गए हैं।
सीएमएचओ भी खुद को संक्रमण से नहीं बचा पाए ग्वालियर में लोगों को कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से बचाने के लिए कार्ययोजना बनाना और उसका पालन कराने की जिम्मेदारी मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी के पास होती है पर सीएमएचओ डॉ. मनीष शर्मा खुद पॉजिटिव आ गए हैं। साथ ही में उनकी पत्नी भी पॉजिटिव निकली है। दोपहर ही वह हाईकोर्ट में कोविड की तैयारियों को लेकर हुई सुनवाई में उपस्थित हुए थे और कई लोगों के संपर्क में आए थे। इसके साथ ही डीएचओ भी संक्रमण की चपेट में आए हैं।

नव भारत न्यूज

Next Post

कलेक्टर पहुंचे मझगवां, कृषि विज्ञान केन्द्र के प्रकल्पों का किया निरीक्षण

Thu Jan 20 , 2022
सतना : ग्रामीण क्षेत्र के भ्रमण के दौरान कलेक्टर अनुराग वर्मा ने मझगवां पहुंचकर कृषि विज्ञान केन्द्र का अवलोकन किया। उन्होने कृषि विज्ञान केन्द्र के विभिन्न प्रकल्पों के अवलोकन के साथ कृषि फार्म में जाकर उन्नत फसलों की खेती, जीरो बजट, जैविक खेती देखी तथा बीज उत्पादन प्रयोगशाला और सामुदायिक […]