खंडेलवाल ओएनडीसी की सलाहकार परिषद से हुए अलग

नयी दिल्ली,  (वार्ता) खुदरा व्यवसायियों के प्रमुख संगठन कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने ई-कामर्स के लिए केंद्र सरकार की पहल ओपन नेटवर्क फार डिजिटल कामर्स (ओएनडीसी) की सलाहकार परिषद से नैतिक आधार पर अपने को अलग करने की शनिवार को घोषणा की।

कैट खुद भी एक ई-कामर्स पेश करने की तैयारी में है।ओएनडीसी को राष्ट्रीय स्तर पर प्रस्तुत करने की रणनीति की शुक्रवार को घोषणा की गयी जिससे क्रेता और आपूर्तिकर्ता किसी एक आन लाइन ई-मार्केट प्लेटफार्म के बंधन से मुक्त हो कर खुले आनलाइन बाजार में काम करने को स्वतंत्र होंगे।

ओएनडीसी की सलाहकार परिषद में इन्फोसिस के सह संस्थापक नंदन नीलकणि सहित निजी और सरकारी क्षेत्र के नामी लाेग रखे गए हैं।

श्री खंडेलवाल ने केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग पीयूष गोयल को भेजे अपने त्यागपत्र में, कहा है, “ चूंकि ओएनडीसी अब जल्द ही एक ई-कॉमर्स प्लेटफार्म के रूप में चलने लगेगा, मेरा विचार है कि मेरा सलाहकार परिषद के सदस्य के रूप में बने रहना नैतिकता के विरुद्ध होगा और इससे हितों का टकराव की स्थिति पैदा होगी क्योंकि कैट जल्द ही अपना भी ई-कामर्स ‘भारत ई मार्केट’ जारी करेगा।

नव भारत न्यूज

Next Post

अमेरिका, नाटो की लिखित प्रतिक्रिया के बाद नयी सुरक्षा वार्ता पर विचार करेगा रूस

Sun Jan 16 , 2022
मॉस्को,  (वार्ता/स्पूतनिक) रूस ने कहा है कि वह अपने सुरक्षा प्रस्तावों पर अमेरिका एवं उत्तर अटलांटिक संधक संगठन(नाटो) की लिखित प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा करेगा और इसके बाद ही नयी सुरक्षा वार्ता के औचित्य पर विचार करेगा। अमेरिका में रूसी राजदूत अनातोली एंटोनोव ने एक साक्षात्कार में यह बात कही। श्री […]