शासकीय भूमि की हेराफेरी पर तीन आरोपियों पर एफआईआर दर्ज

इंदौर:  जिले के हातोद तहसील क्षेत्र में ग्राम अलवासा की एक शासकीय भूमि पर अपराधिक षड्यंत्र करते हुये एवं शासन को सदोष हानि पहुंचाते हुये हेरा-फेरी करने के मामले में तीन आरोपियों के विरूद्ध थाना बाणगंगा में एफआईआर दर्ज करायी गई है. यह एफआईआर ग्राम अलवासा की श्रीमती कुंताबाई पति अमृतलाल, अमृतलाल पिता सिदुलाल एवं पूरण पिता अम्बाराम के विरूद्ध दर्ज करायी गई है. उक्त कार्रवाई कलेक्टर मनीष सिंह के निर्देशन में की गई है.

नायब तहसीलदार हातोद जयेश प्रताप सिंह द्वारा दर्ज करायी गई एफआईआर अनुसार आरोपीगण श्रीमती कुन्ताबाई पति अमृतलाल, अमृतलाल पिता सिदुलाल एवं पूरण पिता अम्बाराम निवासी ग्राम अलवासा इन्दौर द्वारा आपराधिक षड्यंत्र एवं शासन को सदोष हानि पहुचाते हुए शासकीय भूमि की पट्टा आवंटन की वैधानिक प्रक्रिया का अनुपालन नही किया।

कूटरचना करते हुए ग्राम अलवासा स्थित शासकीय भूमि सर्वे क्रमांक 223/5 रकबा 4.047 हेक्टेयर पर बिना किसी वैध अधिकार के अवैध रूप से शासकीय जमीन पर फर्जी दस्तावेज तैयार कर पट्टे आवंटित कर अवैध लाभ अर्जित किया गया। जो प्रथम दृष्टया अपराध पाये जाने पर धारा 420, 467, 468, 471, 120बी भादवि के अंतर्गत आरोपीगणो के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। बताया गया कि आरोपियों द्वारा शासकीय भूमि को बगैर आबादी भूमि घोषित किये हेराफेरी कर की गई।

नव भारत न्यूज

Next Post

यूपी में एंटी इनकंबेंसी और ' योगी शैली ' से भाजपा को नुकसान

Sat Jan 15 , 2022
3 कैबिनेट मंत्रियों सहित 16 विधायकों ने पार्टी छोड़ी – टिकट वितरण के फार्मूले ने भी असंतोष बढ़ाने का काम किया मिलिंद मुजुमदार भोपाल: उत्तर प्रदेश में पहले चरण के चुनाव की अधिसूचना जारी हो चुकी हैं। प्रमुख राजनीतिक दलों ने टिकटों के वितरण की शुरुआत भी कर दी है, […]