2000 के करीब एक्टिव संक्रमितों का आंकड़ा

24 घंटे में मिले 316 नए संक्रमित, 95 डिस्चार्ज

जबलपुर:  तीसरी लहर में भी कोरोना बेकाबू हो रहा है। धीरे-धीरे एक्टिव केस का आंकड़ा 2000 के करीब पहुंच गया है। चौबीस घंटे में मिली 5422 सैंपल की परीक्षण रिपोर्ट में कोरोना के 316 नए संक्रमित मिले है जिन्हें मिलाकर एक्टिव केस 1808 हो गए है। शुक्रवार को कोरोना से स्वस्थ होने पर 95 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है। उल्लेखनीय है कि जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 52,899 हो गई है। कोरोना से अब तक ठीक हुए व्यक्तियों का आंकड़ा 50, 491 है।
90 वर्षीय वृद्ध ने जीती कोरोना जंग-
विगत दिनों एक 90 वर्षीय वृद्ध की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उन्हेंमेडिकल कॉलेज के कोविड वार्ड में भर्ती कराया गया था उन्हें ब्लडे प्रेशर के साथ ह्दय रोग की परेशानी थी परंतु मेडिकल कॉलेज में उनका सफलतापूर्वक उपचार किया गया। 13 जनवरी को उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया। उनके परिजन मेडिकल कॉलेज में किए गए उपचार से अत्यंत प्रसन्न है उन्होंने डीन प्रदीप कसार, कोविड वार्ड कके सभी डॉक्टर्स, नर्सिंग स्टॉफ को धन्यवाद् ज्ञापित किया है।

पुलिस विभाग में 2 दर्जन से अधिक अधिकारी पॉजिटिव
पुलिस विभाग में दो दर्जन से अधिक अधिकारी एवं जवान कोरोना की चपेट में आ चुके है। माढ़ोताल, संजीवनी नगर, मदनमहल थाने में भी कोरोना की दस्तक हो चुकी है। दो डीएसपी, चार टीआई, दो एसआई, प्रधान आरक्षक व आरक्षक समेत अन्य कोरोना की चपेट में है।
कई डॉक्टरों समेत पूर्व मंत्री के भाई का पूरा परिवार संक्रमित-
सूत्रों के मुताबिक एक पूर्व मंत्री के भाई का पूरा परिवार कोरोना पाजिटिव हो गया है। इसके अलावा कोरोना की चपेट में कई चिकित्सक एवं
स्वास्थ्य कर्मचारी आ चुके है। सभी होम आईसोलेशन में है। कोविड नियमों का उल्लंघन, रेस्टोरेंज मैनेजर पर कार्रवाई कोविड नियमों का उल्लंघन करने वाले रेस्टोरेंट मैनेजर के खिलाफ गोरखपुर पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया है। पुलिस के मुताबिक रात 12-40 बजे कटंगा
तिराहा स्थित बेल पेपर रेस्टारेंट का मैनेजर रेस्टोरेंट खोले मिला जिससे नाम पता पूछने पर अपना नाम प्रशांत सिंह रघुवंशी 40 वर्ष निवासी दत्त टाउनशिप मण्डला रोड गोराबाजार बताया, रेस्टोरेंट मैनेजर द्वारा जिला दण्डाधिकारी जबलपुर के आदेश का उल्लंघन करना पाये जाने पर धारा 188 के तहत कार्यवाही की गई।
फीवर क्लीनिक-कोविड वार्ड पहुंचे कलेक्टर, देखी व्यवस्थाएं कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने  प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पड़रिया के फीवर
क्लीनिक का निरीक्षण किया। श्री शर्मा ने इस मौके पर मौजूद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को सेम्पल साइज बढ़ाने के निर्देश देते हुये कहा कि न केवल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की ओपीडी में आने वाले हर व्यक्ति काकोरोना जांच हेतु सेम्पल लिये जायें बल्कि स्वास्थ्य विभाग की टीम आसपासके गांवों का भ्रमण करे और जिसमें भी लक्षण दिखाई दे सभी का सेम्पल लें।
कलेक्टर ने कांटेक्ट ट्रेसिंग पर जोर देते हुये कहा कि कोरोना संक्रमित के नजदीकी सम्पर्क में आये प्रत्येक व्यक्ति को चिन्हित कर उन्हें भी
तुरन्त आइसोलेट कराया जाये और लक्षण दिखाई देने पर कोरोना जांच हेतु सेम्पल भी लिये जायें। इसके बाद श्री शर्मा विकासखंड मुख्यालय कुंडम स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कोविड वार्ड का अवलोकन भी किया। इस दौरान श्री शर्मा ने कोरोना मरीजों के उपचार के लिये सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उपलब्ध सुविधाओं एवं दवाओं की जानकारी ली। उन्होंने स्वास्थ्य केंद्र की ओपीडी में आने वाले हर मरीज का कोरोना सेम्पल लेने के निर्देश स्वास्थ्य अधिकारियों को दिये।
बिना मास्क मिले 1116 का कटा चालान
पुलिस ने मास्क न लगाने वाले 1116 व्यक्तियों के विरूद्ध चालानी कार्यवाही करते हुये 1 लाख 11 हजार 750 रूपये समन शुल्क फाईन किया है।

नव भारत न्यूज

Next Post

इंदौर में कोरोना के 1343 नए मरीज मिले

Sat Jan 15 , 2022
तेजी से बढ़ रहा संक्रमण इंदौर:  शहर में कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेजी से बढ़ रही है जिसके चलते मरीज की संख्या बढ़ रही है. शुक्रवार को कोरोना संदिग्ध 10211 मरीजों के सैंपल जांचे गए जिसमें से 1343 नए संक्रमित मरीज मिले. शुक्रवार जारी बुलेटिन के मुताबिक अब तक 32 […]