युवक की संदिग्ध मौत पर शव रखकर किया गया चक्काजाम

परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप मड़वास-मझौली मार्ग में दो घंटे आवागमन रहा बाधित

सीधी :  युवक की संदिग्ध मौत पर पोस्टमार्टम कार्यवाही के पश्चात आज परिजनो का आक्रोश भड़क उठा और उनके द्वारा लाश को सड़क मेंं रखकर चक्काजाम शुरू कर दिया गया। चक्काजाम की जानकारी मिलते ही मौके पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सुरेश अग्रवाल, एसडीओपी आर.के.शुक्ला व नगर निरीक्षक मझौली दीपक बघेल के साथ-साथ भाजपा मण्डल अध्यक्ष प्रवीण तिवारी व भाजपा नेता मार्तण्ड चतुर्वेदी द्वारा भी मृतक के परिजनों को समझाइश दी गई एवं निष्पक्ष जांच व कार्यवाही का आश्वासन दिया गया तब दोपहर लगभग 12 बजे परिजनों द्वारा शव को सड़क से उठाकर अंतिम संस्कार किया गया।

मिली जानकारी के अनुसार 11 जनवरी मंगलवार की शाम करीब 7 बजे मझौली धान खरीदी केन्द्र में बोरी की सिलाई करने वाले नगर पंचायत मझौली के वार्ड क्र. 6 निवासी पूरन द्विवेदी पिता विशेषर द्विवेदी उम्र 25 वर्ष घायल अवस्था में मझौली कॉलेज एवं गोदाम के बीचोबीच सड़क पर पड़ा देखा गया। जिसे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मझौली लाया गया जहां पहुंचते-पहुंचते युवक ने दम तोड़ दिया। डॉक्टर द्वारा परीक्षण के बाद उसे मृत घोषित कर दिया गया। जिस तरह से युवक के शरीर में चोट के निशान थे और वह जिस हालत में गंभीर मिला उससे परिजनों द्वारा हत्या किए जाने की आशंका व्यक्त की जाने लगी।

पीएम कार्यवाई के पश्चात जब पुलिस ने शव परिजनों को सौंपा तो वह ले जाने की बजाय घटनास्थल पर शव को रख आवागमन बाधित कर त्वरित कार्यवाही की मांग शुरू कर दी। परिजनों द्वारा मांग किए जाने पर एसडीएम मझौली ने विधवा मां एवं नाबालिक भाइयों की हर संभव नियमानुसार मदद किए जाने की बात कहीं गई। पुलिस द्वारा बताया गया कि कल 11 जनवरी को जब घटना घटी थी परिजनों द्वारा एक्सीडेंट होने का रिपोर्ट दर्ज कराया गया था जिसके आधार पर आज कार्यवाही की जा रही थी लेकिन आज पीएम उपरांत परिजनों द्वारा हत्या किए जाने का आरोप लगाते शव को सड़क पर रखकर विरोध जताया गया है जिन्हें समझाइश देकर शव को सड़क से उठवा कर दाह संस्कार के लिए भेजा गया। परिजनों द्वारा हत्या किए जाने का आरोप लगाया गया है जिसकी जांच विवेचना किया जाकर जो भी तथ्य सामने आएगा कार्यवाही की जाएगी। मृत्यु का वास्तविक कारण पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पाएगा लेकिन जिस हालत में मृतक की मृत्यु हुई है पुलिस की जांच विवेचना को उलझा कर रख दिया है।

नव भारत न्यूज

Next Post

ज्ञान को हमेशा आचरण में रखना है: राज्यपाल

Thu Jan 13 , 2022
रादुविवि में वैदिक मंत्रोच्चार के बीच निकली दीक्षांत यात्रा 2 डीलिट, 175 पीएचडी धारकों को उपाधि एवं 65 छात्र-छात्राओं को प्रदान किए गए 128 स्वर्ण पदक ऑनलाईन-ऑफलाईन मोड में 33वें दीक्षांत समारोह का हुआ आयोजन जबलपुर:  युवाओं से आव्हान किया कि ज्ञान को हमेशा आचरण में रखना है।दीक्षांत में श्रेष्ठ […]